नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली के स्वरूप नगर इलाके में एक 7 साल के बच्चे (आशीष) की हत्या में दिल दहला देने वाला खुलासा हुआ है। 7 साल के आशीष को उसके चाचा अवधेश ने पिछले महीने की 7 जनवरी को उस वक्त किडनैप किया था, जब वह घर के पास खेल रहा था। आरोप है कि बच्चे को किडनैप करके थोड़ी दूरी पर अपने किराए के कमरे में गला घोट कर हत्या कर दी।

इसके बाद उसे अच्छे से पॉलीथिन में पैक करके कमरे में रखे सूटकेस में रख दिया। हत्या का मकसद साइको किलर जैसा था। हत्यारोपी अवधेश का कहना था कि बच्चे के माता-पिता उसे गाली देते थे, इसलिए उसने बच्चे को मार दिया। 

लालच देकर किया किडनैप

पुलिस ने अवधेश से पूछताछ के बाद खुलासा किया है कि वह आशीष को साइकिल दिलाने का लालच देकर अपने साथ ले गया था। फिर बच्चे को थोड़ी दूरी पर अपने किराए के कमरे में ले जाकर गला घोट कर हत्या कर दी। 

पड़ोसियों से बचने के लिए घर में रखे मरे चूहे

आशीष की हत्या के बाद अवधेश ने खुद को बचाने के उपाय भी सोचने शुरू कर दिए। बदबू आने पर पड़ोसियों को क्या कहना है और क्या सुबूत दिखाना है? इसका उपाय भी अवधेश ने कर रखा था। दरअसल, हत्या के बाद अवधेश ने आशीष के शव को अच्छे से पॉलीथिन में पैक करके कमरे में रखे सूटकेस में रख दिया था। अवधेश ने अपने कमरे में कुछ मरे हुए चूहे भी रखे हुए थे। 

बताया जा रहा है कि जब पड़ोसियों को शव की बदबू आती थी तो  कहता था- 'चूहा मरा हुआ है और उसी की बदबू आ रही है।' सुबूत के तौर पर अवधेश ने कमरे के अंदर से एक मरा चूहा लाकर भी पड़ोसियों को दिखा दिया था।

शव पर छिड़कता रहता था परफ्यूम

शव से ज्यादा बदबू नहीं आए इसके लिए उसने बेहद अच्छे से शव को सूटकेस के अंदर रखा था। कमरे में बहुत सारे परफ्यूम रखे हुए थे, जिन्हें आशीष के शव पर छिड़कता रहता था। बताया जा रहा है कि आरोपी ने शव को 38 दिन तक सूटकेस में छिपाकर रखा था। वहीं, परिजनों ने उस पर किडनैपिंग का शक जाहिर किया था। दिल्ली पुलिस की लंबी जांच और पूछताछ के बाद आरोपी ने जुर्म कबूल लिया। 

आशीष के मां-बाप से बताया था- मैं हूं CBI अफसर

अवधेश ने इलाके में और बच्चे के मां-बाप को बता रखा था वह सीबीआइ में अधिकारी है और सबके बच्चों की नौकरी लगवा देगा। इतना ही नहीं, अवधेश कहता था कि वह यूपीएससी अटैम्प्ट कर चुका है।

जांच में पता चला है कि पहले अवधेश बच्चे के घर में ही रहता था, लेकिन बच्चे के पिता को लगा कि अवधेश को ज्यादा वैल्यू दी जा रही है तो उसने घर से बाहर कर दिया। हालांकि, अवधेश ने बताया कि इलाके लोग बताते थे कि बच्चे के माता पिता उसे गाली देते हैं तो गुस्से में उसने आशीष को मार दिया। इसके बाद शव को डिकम्पोज नहीं कर पाया इसलिए फिरौती नहीं मांगी। हालांकि, उसने 15 लाख रुपये फिरौती मांगने का प्लान बनाया था। 

यह भी पढ़ें: नरेश क्यों बना साइको किलर, पूर्व सैनिक ने सिर्फ 2 घंटे में 6 लोगों को मार डाला

यह भी पढ़ेंः जानें- कौन है 6 हत्याएं करने वाला साइको किलर, पत्नी जल्द खोलेगी अहम राज

By JP Yadav