नई दिल्ली। दिल्ली के कैबिनेट मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की गिरफ्तारी पर राजनीतिक पारा चढ़ता जा रहा है। आम आदमी पार्टी (आप) नेता कुमार विश्वास और आशुतोष के साथ कैबिनेट मंत्री सतेंद्र जैन के धरना-प्रदर्शन के बाद अब उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने भी मोर्चा खोल दिया है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने पत्रकार वार्ता कर उपराज्यपाल और केंद्र सरकार दोनों पर जमकर हमला बोला। उपराज्यपाल को सीएनजी फिटनेस घोटाले से जोड़ते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि यह सब केंद्र के इशारे पर किया जा रहा है। उपराज्यपाल की भूमिका फिटनेस घोटाले में जाहिर हो रही है। उपराज्यपाल पर सीधे हमला करते हुए सिसौदिया ने कहा कि यह बदले की कार्रवाई है। तोमर को झूठ बोलकर पुलिस ने घर से उठाया।

उन्होंने जोर देकर कहा कि क्या तोमर अपराधी हैं? जब कैबिनेट मंत्री ने हाईकोर्ट में हलफनामा दे दिया है, कोर्ट में मामला चल रहा है। ऐसे में गिरफ्तारी को कैसे जायज ठहराया जा सकता है। उन्होंने केंद्र पर हमला करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ऐसी हरकतें कर दिल्ली में तानाशाही जैसे हालात पैदा कर रही है। हम जनता के हित में काम कर रहे हैं और करते रहेंगे।

धरने पर आप नेता व कार्यकर्ता

कानून मंत्री तोमर की गिरफ्तारी के विरोध में आप नेता व कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए आए हैं। आप नेता आशुतोष, कुमार विश्वास व सौरव भारद्वाज एसीबी के बाहर धरने पर बैठे हैं। वहीं आप के कार्यकर्ता पूरी दिल्ली मं जगह-जगह सड़क जाम कर धरने पर बैठ गए हैं।

पुलिस कमिश्नर ने बुलाई बैठक

दिल्ली सरकार के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी के बड़े नेताओं की जगह-जगह धरना प्रदर्शन के बीच दिल्ली के पुलिस कमिश्नर ने अफसरों की बैठक बुलाई गई है। बैठक में दिल्ली की कानून्-व्यवस्था को दुरुस्त रखने पर चर्चा चल रही है।

ये भी पढ़ेंः फर्जी डिग्री केस में दिल्ली के कानून मंत्री गिरफ्तार, साकेत कोर्ट में होगी पेशी

ये भी पढ़ेंः जितेंद्र तोमर गिरफ्तारीः सोशल नेटवर्किंग साइट पर भिड़े आप-भाजपा कार्यकर्ता, कांग्रेस भी कूदी

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस