जागरण संवाददाता, दक्षिणी दिल्ली: भाजपा महिला मोर्चा ने बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से तीन साल का हिसाब मांगा। इतना ही नहीं मोर्चा ने 'तीन साल, दिल्ली बेहाल' कार्यक्रम आयोजित कर केजरीवाल की कथनी और करनी से लोगों को अवगत कराया। महरौली में आयोजित कार्यक्रम में स्थानीय लोगों को संबोधित करते हुए भाजपा की प्रदेश मंत्री सुमित्रा दहिया ने कहा कि तीन साल से सत्ता में होने के बावजूद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने चुनावी वादे पूरे नहीं कर पाए हैं। बावजूद इसके केजरीवाल और उनके मंत्री तीन साल पूरा करने के जश्न में डूबे हैं।

सुमित्रा ने कहा कि केजरीवाल ने बिजली हाफ, पानी माफ का नारा देकर सत्ता हासिल की थी, लेकिन सत्ता में आते ही वह भ्रष्टाचार में डूब गए। इसलिए बिजली-पानी के दाम बढ़ते गए। आज दिल्ली स्लम से भी बदतर हो गई है। लोग ओवरफ्लो सीवर, पानी किल्लत, बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य व परिवहन व्यवस्था की बदहाली की मार झेल रहे हैं। मुख्यमंत्री केजरीवाल को इस्तीफा देकर जनता से माफी मांगना चाहिए। इस दौरान महिला मोर्चा की महरौली जिलाध्यक्ष वीना शर्मा समेत तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।

केजरीवाल के झूठ गिनाए

इस अवसर पर सुमित्रा दहिया व अन्य कार्यकर्ताओं ने पर्चे बांटकर लोगों को केजरीवाल के झूठ गिनाए। बताया कि उनकी कथनी और करनी में अंतर है। पर्चे के माध्यम से उन्होंने लोगों को बताया कि केजरीवाल ने तीन साल में दिल्ली को 30 साल पीछे धकेल दिया है। सरकार ने जनता के पैसे अपने विज्ञापन पर उड़ा दिए। महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध बढ़ते रहे। न बसों में सीसीटीवी कैमरे लगे, न बाउंसरों की तैनाती हुई। इनके मंत्रियों पर यौन उत्पीड़न, भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी के साथ ही फर्जीवाड़ा के आरोप लगे। और सीएम इन सबका बचाव करते रहे। न तो अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किया गया और न ही झुग्गी बस्तियों में पानी की पाइपलाइन पहुंची।

By Jagran