जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : कोरोना संक्रमण के बीच दिल्ली में शनिवार को ईद-उल-अजहा (बकरीद) का त्योहार मनाया गया। ऐतिहासिक जामा मस्जिद समेत अन्य मस्जिदों में सुबह नमाज पढ़ी गई। इस अवसर पर लोग ने कोरोना के काले बादल जल्द से जल्द छटने की खुदा से दुआएं मांगी। कोरोना संक्रमण की वजह से अधिकतर लोग ने एक-दूसरे से गले नहीं मिले, बल्कि दूर से ही बधाइयां दी। हालांकि कई स्थानों पर शारीरिक दूरी के नियम का पालन टूटता दिखा। वहीं, नमाज के बाद बकरों व अन्य जानवरों की कुर्बानी दी गई।

जामा मस्जिद, फतेहपुरी मस्जिद, फिरोजशाह कोटला, आइटीओ स्थित मस्जिद, भूरी भटियारी मस्जिद व सुनहरी मस्जिद समेत शहर की सभी मस्जिदों में सुबह शारीरिक दूरी के नियम के साथ ईद की नमाज पढ़ी गई। बकरीद को लेकर पुरानी दिल्ली के मुस्लिम बहुल इलाकों में भोर से ही ईद का माहौल दिखने लग गया था। जैसे-जैसे सूरज चढ़ रहा था, वैसे ही सड़कों पर चहल-पहल बढ़ने लगी। इस दौरान अधिकतर लोग सफेद कुर्ते और पायजामे में दिखे। बच्चे से लेकर बड़ा हर कोई कुर्ते-पायजामे के रंग के साथ मिलान करते रंग की टोपी और मास्क पहने हुए एक साथ नमाज पढ़ने के लिए पहुंचे। सेल्फी के दौरान टूटे नियम

बकरीद के मौके पर नए कपड़ों के साथ अधिकतर युवा अपने समूह के साथ इन खुशियों के पलों को सेल्फी के माध्यम से कैद करते हुए दिखे। जामा मस्जिद में कुछ विदेशी मेहमान भी नमाज पढ़ने के लिए पहुंचे, जो सेल्फी लेते वक्त एक दूसरे से नजदीक बिना मास्क ही खड़े नजर आएं। ईदी से खुश हुए बच्चे

नमाज के बाद लोग अपने घर पहुंचे, जहां उन्होंने कुर्बानी दी। वहीं, घरों में खाने के अलग-अलग पकवान बनाए गए हैं, जिनमें बिरयानी समेत अन्य मांसाहारी पकवान शामिल रहे। वहीं, मीठे के तौर पर खीर और सेवइयां बनीं। घर की महिलाएं सुबह से ही इसमें जुट गईं। घर के बड़े सदस्यों ने अपने से छोटे और बच्चों को उनकी ईदी दी। जिसे पाकर बच्चों के चेहरों की मुस्कान देखते ही बन रही थी। इंडिया गेट समेत अन्य पर्यटन स्थलों पर घूमने पहुंचे लोग

बकरीद के मौके पर लोग पर्यटन स्थलों पर घूमने के लिए पहुंचे। शाम के वक्त इंडिया गेट, पुराना किला और हुमायूं के मकबरे समेत अन्य पर्यटन स्थलों पर मौज मस्ती करते नजर आए। लोगों ने इंडिया गेट पर परिवार के साथ पहुंचकर पिकनिक मनाई। इस दौरान बच्चों ने जमकर मस्ती की। वहीं, लोगों के इंडिया गेट पर पहुंचने के चलते पुलिस को यातायात व्यवस्था संभालने में अधिक मेहनत करनी पड़ी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस