राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : दिल्ली सचिवालय में बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हमारा मिशन सभी को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं, सेवाएं और दिल्ली के छात्रों को अच्छी शिक्षा देना है। अब लोगों को सर्वोत्तम परिवहन प्रदान करना भी हमारा मिशन है। उन्होंने वरिष्ठ नागरिकों से अपील की कि वे दिल्ली सरकार को अपना आशीर्वाद दें और ईश्वर से प्रार्थना करें कि सरकार जनता की सेवा के मिशन में सफलता हासिल कर सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सरकार वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान करती है। जो समाज अथवा देश अपने वरिष्ठ नागरिकों को सम्मान नहीं देता, वह कभी प्रगति नहीं कर सकता। केजरीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत हर साल दिल्ली के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से 1100 वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त तीर्थयात्रा कराई जाएगी। इसका खर्चा दिल्ली सरकार वहन करेगी। दिल्ली के कुल 77 हजार तीर्थयात्री हर साल इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। वहीं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कहना था कि यह योजना साप्रदायिक सद्भाव और भाईचारे को बढ़ावा देने में मददगार साबित होगी।

राजस्व विभाग और दिल्ली तीर्थ यात्रा विकास समिति द्वारा आयोजित इस समारोह में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, राजस्व और परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत, पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन, एससी-एसटी कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम, मुख्य सचिव विजय देव, राजस्व सचिव वर्षा जोशी, दिल्ली तीर्थ यात्रा विकास समिति के अध्यक्ष कमल बंसल सहित अनेक विधायक मौजूद थे। तीर्थयात्रा निम्नलिखित में से किसी भी मार्ग के लिए होगी

1.) दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली

2.) दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली

3.) दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-दिल्ली

4.) दिल्ली-अमृतसर-वाघा सीमा-आनंदपुर साहिब-दिल्ली

5.) दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली

योजना के लिए योग्यता :-

1.) यह योजना दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों 60 साल या उससे अधिक आयु के लोगों के लिए उपलब्ध है।

2.) 70 साल से ऊपर के वरिष्ठ नागरिक अपने साथ 21 वर्ष या उससे अधिक उम्र के एक परिचर (अटेंडेंट) को साथ ले जा सकते हैं।

3.) योजना का लाभ उठाने के लिए कोई आय सीमा नहीं है।

4.) योजना के अंतर्गत आवेदक को अपने विधायक से विधानसभा क्षेत्र का निवासी होने का प्रमाणपत्र लेना होगा। काम की बातें :-

- आवेदक केंद्रीय, राज्य या स्वायत्त निकायों का कर्मचारी नहीं होना चाहिए।

- यह यात्रा भारतीय रेलवे के माध्यम से की जाएगी।

-आवेदकों को डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट एडिट स्ट्रीक्ट डॉट दिल्ली गवर्नमेंट डॉट एनआइसी डॉट इन पर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा, जिसे एनआइसी, दिल्ली स्टेट सेंटर की मदद से विकसित किया गया है। अनिवार्य जरूरतें

1.) मतदाता कार्ड

2.) प्रोफार्मा के अनुसार स्वयं घोषणापत्र

3.) क्षेत्र विधायक से निवास के सबूत के संबंध में प्रमाण पत्र

4.) मेडिकल सर्टिफिकेट

Edited By: Jagran