नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। केरल को छोड़कर दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे देश में कोरोना वायरस संक्रमण से काफी हद तक राहत मिल गई है। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी से गिरावट देखी जा रही है। स्कूलों और कालेजो को खोलने के बाद अब प्रदर्शनी और कार्यक्रमों के आयोजन के माेर्चे पर राहत की मिल गई है।

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (Delhi Disaster Management Authority) के नए आदेश में इनको मंजूरी मिल गई है, जिसका एलान बुधवार को हुआ है। सूत्रों के मुताबिक मंजूरी के लिए सरकार ने भी इस संबंध में प्रस्ताव डीडीएमए को भेजा था। नए आदेश में प्रदर्शनी व कार्यक्रमों के आयोजनों में ढील मिली है, फिलहाल कोरोना के दिशा-निर्देशों के तहत इसपर प्रतिबंध लगा था। ढील मिलने पर तकरीबन 40,000 लोगों को रोजगार हासिल होगा। ये लोग लंबे समय अनुमति का इंतजार कर रहे थे। अब जाकर हजारों लोगों की मुराद पूरी हुई है।

Indian Railway News: रेलवे समय पर ट्रेनों को चलाने के लिए बंद करने जा रहा ये सुविधा, जानें डिटेल

गौरतलब है कि पिछले दिनों चैंबर आफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री के चेयरमैन बृजेश गोयल (Brijesh Goyal, Chairman, Chamber of Trade and Industry) के नेतृत्व में इस उद्योग से जुड़े लोग दिल्ली के स्वास्थ्य एवं उद्योग मंत्री सत्येंद्र जैन और डीडीएमए के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात भी की थी। इसमें कोरोना वायरस के मामले में कमी आने के बाद कई तरह की छूट का एलान करने की गुजारिश की गई थी।

इस बाबत बृजेश गोयल ने बताया है कि दिल्ली में साप्ताहिक बाजार, सिनेमा, स्कूल, मेट्रो, माल व मार्केट आदि खुल गए हैं। ऐसे में प्रदर्शनी और कार्यक्रमों के आयोजनों को भी मंजूरी मिलनी चाहिए। आखिरकार इससे टेंट, स्टाल, पार्टिशन, लाइट, कैमरा, साउंड, माइक, फूड, कैटरिंग, प्रिंटर्स, डेकोरेटर्स, स्टेज, आर्टिस्ट, एंकर और सुरक्षा गार्ड व अन्य को काम मिलता है। वैसे भी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले न्यूनतम है।

Edited By: Jp Yadav