नई दिल्ली। मलेशिया ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को पुनर्विकसित कर मिनी स्मार्ट सिटी बनाने पर 24 अरब डॉलर के निवेश की पेशकश की है। मलेशिया राजधानी दिल्ली के नजदीक उत्तर प्रदेश के गढ़ मुक्तेश्वर को ग्रीन सिटी परियोजना के तहत विकसित करने और गंगा सफाई पर छह अरब डॉलर के निवेश करना चाहता है। इन दो प्रमुख परियोजनाओं के साथ शहरी विकास की अन्य योजनाओं को लेकर भी वहां की कंपनियां उत्साहित हैं।

मलेशिया 30 अरब डॉलर निवेश करने को तैयार

मलयेशिया के निर्माण मंत्री हाजी फादिल्लाह बिन यूसुफ ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू से मुलाकात में की। मलेशिया ने शहरी विकास की विभिन्न योजनाओं के साथ आवासीय परियोजनाओं में 30 अरब डॉलर का निवेश करना चाहता है। नायडू से मुलाकात में मलयेशिया के प्रतिनिधिमंडल में प्रमुख सरकारी व निजी कंपनियों के 30 प्रतिनिधि भी शामिल थे।

सबको मकान देने की योजना में निवेश करना चाहता है मलयेशिया

मलेशियन व भारतीय प्रतिनिधियों की बातचीत में दो प्रमुख परियोजनाओं में निवेश पर सहमति बनी है। इसमें पहली परियोजना नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को पुनर्विकास के साथ मिनी स्मार्ट सिटी के रुप में विकसित किया जाएगा। इस परियोजना पर 24 अरब डॉलर खर्च किया जाएगा। इसके साथ दूसरी परियोजना उत्तर प्रदेश में ग्रीन सिटी परियोजना गढ़ मुक्तेश्वर में शुरु होगी। इसमें आवासीय सुविधा मुहैया कराने के साथ गंगा की सफाई परियोजना शामिल की जाएगी। मलयेशिया की इन परियोजनाओं में नेशनल बिल्डिंग कांस्ट्रक्शन कारपोरेशन (एनबीसीसी) सहयोग करेगी।

क्वालालंपुर के पेट्रोनास टॉवर बनाने वाली केएलसीसी भी निवेश की इच्छुक

भारत मलेशिया के निवेश की पेशकश पर नायडू ने एनबीसीसी के अफसरों से कहा कि वे इस बारे में संबंधित रेलवे, वित्त, और जल संसाधन मंत्रालयों के साथ दिल्ली सरकार से विचार-विमर्श कर विस्तृत रिपोर्ट तैयार करें। गढ़ मुक्तेश्वर के विकास के लिए उत्तर प्रदेश सरकार से भी संपर्क कर विचार-विमर्श किया जाए। मलयेशिया के दल में सड़क परिवहन, निर्माण, बैंकिंग के साथ निजी कंपनियों के आला अफसर शामिल थे। इसमें क्वालालंपुर के पेट्रोनास टॉवर बनाने वाली कंपनी केएलसीसी ने भारत में प्रस्तावित स्मार्ट सिटी निर्माण में अपनी रुचि दिखाई है। इसी तरह भारत की आवासीय परियोजनाओं में पेंबिनान कंपनी ने शिरकत करने की इच्छा जताई।

नायडू से मिला चीन का 20 सदस्यीय प्रतिनिधिमंड

चीन के 20 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने भी शहरी विकास मंत्री नायडू से मुलाकात कर स्मार्ट सिटी और अन्य परियोजना पर अपना प्रस्ताव रखा।

Posted By: Amit Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस