नई दिल्ली [शुजाउद्दीन]। मयूर विहार इलाके में एक माल के सुरक्षाकर्मी से हुई लूटपाट की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। बदमाशों की पहचान नितिन सागर, सौरभ व आशीष सिंह के रूप में हुई है, तीनों ही चिल्ला गांव के रहने वाले हैं। बदमाशों के पास से पर्स व कागजात बरामद हुए हैं।

जिला पुलिस उपायुक्त प्रियंका कश्यप ने बताया कि 18 सितंबर को गुरुग्राम निवासी गणेश प्रसाद पंत के साथ तीन बदमाशों ने लूटपाट की थी। पीड़ित एक माल में सुरक्षाकर्मी की नौकरी करते है, वारदात के वक्त वह ड्यूटी पर जा रहे थे। मयूर विहार के पास बदमाशों ने उन्हें घेर लिया और लूटपाट करने लगे, विरोध करने पर बदमाशों ने उन्हें घायल कर दिया।

वारदात को अंजामत देकर बदमाश फरार हो गए। पुलिस ने पीड़ित के बयान पर केस दर्ज किया। थानाध्यक्ष विवेक त्यागी की देखरेख में टीम बनाई। टीम ने टेक्निकल सर्विलांस के जरिये एक बदमाश की पहचान नितिन सागर के रूप में की। पुलिस ने वारदात के तीन घंटे बाद भी उसके दबोच लिया, कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे रिमांड पर भेज दिया। बाद में पुलिस ने इसके दोनों साथियों को भी मयूर विहार इलाके से ही दबोच लिया।

गड्ढे में गिरकर चार छात्र चोटिल

बता दें कि अलीपुर इलाके के बख्तावरपुर गांव के स्कूल में पढ़ने जा रहे चार छात्र सामने से आ रही तेज रफ्तार कार से बचने के लिए सड़क पर बने गड्ढे में गिरकर चोटिल हो गए। चारों को नरेला के राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां पर दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। बृहस्पतिवार सुबह बाइक पर सवार होकर बख्तावरपुर निवासी सावेद, रवि व संजय स्कूल जा रहे थे। इस दौरान संजय बाइक चला रहा था व बाकी पीछे बैठे थे।

Edited By: Prateek Kumar