नई दिल्ली [संजीव कुमार मिश्र]। दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डीटीयू) के कुलपति प्रो. योगेश सिंह अब दिल्ली विश्वविद्यालय की जिम्मेदारी संभालेंगे। बुधवार रात राष्ट्रपति ने उन्हें डीयू कुलपति नियुक्त किया। नवनियुक्त कुलपति संभवतः सोमवार को कार्यभार सम्हालेंगे। कुलपति के पद पर प्रोफेसर योगेश सिंह की नियुक्ति पांच साल के लिए की गई है। दैनिक जागरण से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि डीयू देश के पुराने विवि में शामिल है। सबको साथ लेकर चलेंगे। डीयू शिक्षकों, छात्रों के हित में जो जरूरी होगा वो फैसला लिया जाएगा।

प्रो. योगेश सिंह फिलहाल डीटीयू के कुलपति का कार्यभार संभाल रहे हैं। इनके कार्यकाल में डीटीयू की एनआइआरएफ रैंकिंग काफी सुधरी। गत वर्ष डीटीयू की रैंकिंग 45 थी जबकि इस साल तीन अंकों के सुधार के साथ रैंकिंग 42 थी। प्रो. योगेश सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले की शिकारपुर तहसील के बदरखा सीरवास गांव के निवासी हैं। जन्म के समय उनके पिता अलीगढ़ में रहकर अपनी पीएचडी की पढा़ई कर रहे थे। उनके पिता प्रो. निरंजन सिंह हरियाणा स्थित कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में गणित के प्रो. रहे हैं। प्रोफेसर योगेश सिंह ने अपनी उच्च शिक्षा कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय से पूरी की।

डीटीयू से पहले प्रो. योगेश सिंह नेताजी सुभाष इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाजी, दिल्ली के निदेशक (31 दिसंबर, 2014 से 24 जुलाई, 2017) थे। गुजरात स्थित महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय के लगातार दो बार कुलपति बने। पहला कार्ययाल सन 2011 से 2014 तक जबकि दूसरा कार्यकाल 29 दिसंबर, 2014 तक रहा। प्रो. योगेश सिंह ने राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कुरुक्षेत्र से एमटेक (इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग) और पीएचडी (कंप्यूटर इंजीनियरिंग) की है। साफ्टवेयर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में उन्होंने 23 पीएचडी का पर्यवेक्षण किया है। अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय पत्रिकाओं में इनके 250 से अधिक शोध आदि प्रकाशित हो चुके हैं।

कई किताबें लिखी

प्रो. योगेश सिंह ने सॉफ्टवेयर टेस्टिंग पर एक पुस्तक लिखी। जिसे कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस, इंग्लैंड ने 2011 में प्रकाशित किया। साफ्टवेयर इंजीनियरिंग और पीएचआई लर्निंग, आब्जेक्ट ओरिएंटेड साफ्टवेयर इंजीनियरिंग पर प्रकाशित पुस्तकों के सह-लेखन भी रहे हैं। तीन अक्टूबर 2019 से राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (एनएएसी) की कार्यकारी समिति के सदस्य भी हैं। वो गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली के स्कूल आफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के डीन (2001-2006 तक), परीक्षा नियंत्रक (2006-2011) भी रहे हैं।

Edited By: Mangal Yadav