नई दिल्ली/फरीदाबाद [गौतम मिश्रा/ सुशील भाटिया]। टोक्यो पैरालिंपिक में शानदार प्रदर्शन करने वाले भारतीय खिलाड़ी स्वदेश पहुंच गए हैं। सोमवार को दिल्ली एयरपोर्ट पर यूपी के गौतमबुद्धनगर के डीएम व पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी सुहास एलवाई, फरीदाबाद के रहने वाले शूटर सिंहराज अधाना समेत कई खिलाड़ियों का शानदार स्वागत किया गया। शानदार स्वागत से गदगद सुहास एलवाई ने कहा कि मैं इस पदक को अपने देश को समर्पित करता हूं। समर्थन के लिए मैं आप सभी का धन्यवाद करता हूं।

पैरा ओलिंपिक में रजत पदक जीतने वाले गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई का नोएडा के डीएनडी फ्लाईओवर भी किया गया। इस दौरान काफी संख्या में जिले के कर्मचारी और शहर के निवासी मौजूद रहे।

डीएनडी पर सुहास एलवाई के ऊपर लोगों ने फूल बरसाया और वंदे मातरम का नारा भी लगाया। ढोल बजाकर लोगों ने तिरंगा लहरा कर उनका उत्साहवर्धन किया। भारत माता की जय और सुहास एलवाई जिंदाबाद भी लगाया।

टोक्यो पैरालिंपिक में कांस्य पदक और रजत पदक विजेता निशानेबाज सिंहराज अधाना की पत्नी की पत्नी कविता भी परिजनों के साथ एयरपोर्ट पर पहुंची। उन्होंने पदक को चूम लिया।

सिंहराज अधाना फरीदाबाद के रहने वाले हैं। उनके स्वागत के लिए बड़ी संख्या में दोस्त व अन्य लोग भी पहुंचे।

टोक्यो पैरालिंपिक में रजत और कांस्य पदक जीतकर दोहरी उपलब्धि हासिल करने वाले सिंहराज अधाना की पत्नी कविता, बहनें शीला अधाना, अनीता, पूजा, मंजू, कोमल, मासी सरला अधाना, भांजी दीपिका और स्नेहा एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया।

फरीदाबाद की तिगांव से विधायक राजेश नागर भी एयरपोर्ट पर सिंहराज का स्वागत करने पहुंचे।

बता दें कि खिलाड़ियों के परिजन, दोस्त और प्रशंसक बड़ी संख्या में एयरपोर्ट पर पहुंचे। दिल्ली अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंची पैरालिंपिक टीम के स्वागत के लिए टर्मिनल 3 के बाहर बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। लोगों का कहना है कि ओलिंपिक के बाद पैरालिंपिक में खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन कर देश का नाम रोशन किया है। खेल के क्षेत्र में भारत को मिल रही सफलता सरकार द्वारा खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं व खेल से जुड़ी बुनियादी सुविधाओं के विकास व खिलाड़ियों के कड़े अभ्यास के कारण संभव हो रहा है।

खिलाड़ियों के साथ साथ उनके प्रशिक्षकों की भी मेहनत रंग ला रही है। देश में पढ़ाई लिखाई के साथ साथ खेलकूद को लेकर भी अब नया माहौल बन रहा है। खेल के क्षेत्र में करियर की अपार संभावनाएं बन रही हैं।

बता दें कि टोक्यो पैरालिंपिक इतिहास में अगर भारत की बात करें तो इस बार सबसे ज्यादा पदक खिलाड़ियों ने जीता है। भारत ने कुछ 19 पदक जीते हैं। इनमें पांच स्वर्ण, आठ रजत और छह कांस्य पदक शामिल है। पदक तालिका में भारत का 24वां स्थान रहा। भारतीय दल में कुल 54 खिलाड़ी शामिल थे।

इन खिलाड़ियों ने जीता गोल्ड मेडल

गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों में अवनि लेखरा, सुमित अंतिल, मनीष नरवाल, प्रमोद भगत व कृष्णा नागर का नाम शामिल है।

इन खिलाड़ियों ने जीता सिल्वर मेडल

रजत (सिल्वर) पदक जीतने वालों में भाविना पटेल, निषाद कुमार, योगेश कथूनिया, देवेंद्र झांझरिया, मरियप्पन थंगावेलू, प्रवीण कुमार, सिंहराज अधाना, सुहास एल यतिराज का नाम शामिल है। सुहास एल यतिराज यूपी के गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी हैं।

कांस्य पदक इन खिलाड़ियों ने जीता

कांस्य पदक जीतने वालों में सुंदर सिंह गुर्जर, सिंहराज अधाना, शरद कुमार, अवनि लेखरा, हरविंदर सिंह व मनोज सरकार शामिल हैं।  

Edited By: Mangal Yadav