नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। 7 लाख के इनामी गैंगस्टर काला जठेढ़ी और उसकी गर्लफ्रेंड अनुराध चौधरी उर्फ मैडम मिंज की गिरफ्तारी के बाद तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन भी चर्चा में आई गई है। लंबा कद और खूबसूरत चेहरे के सहारे देशभर में देहव्यापार का धंधा चलाने वाली सोनू पंजाबन ने एक समय हरियाणा और यूपी पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस की नाक में भी दम कर रखा था। इसके चलते सोनू पंजाबन को दिल्ली की लेडी डॉन कहा जाने लगा। अब भी लोग और दिल्ली पुलिस सोनू पंजाबन को लेडी डॉन ही मानती है और फिलहाल वह देह व्यापार के एक मामले में तिहाड़ जेल में लंबी सजा काट रही है।

यहां पर बता दें कि राजस्थान की लेडी डॉन कही जाने वाली अनुराधा चौधरी की तरह सोनू पंजाबन के भी कई प्रेमी रहे हैं। यहां तक कि सोनू पंजाबन ने तो आधिकारिक और गैरआधिकारिक रूप से कुल चार शादियां की, लेकिन दुर्भाग्य से सभी पति एनकाउंटर में मारे गए। यहां पर बता दें कि खूबसूरत अदाओं के बल पर पुलिस प्रशासन को भी चकमा देने वाली सोनू पंजाबन को कोई विष कन्या बुलाता है तो कोई हुश्न की शहजादी। यहां पर बता दें कि 10 महीने में 20 से अधिक हत्याओं को अंजाम देने वाले गैंगस्टर को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने शुक्रवार रात को जबकि उसकी गर्लफ्रेंड अनुराधा को कुछ घंटे बाद गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद से सोनू पंजाबन भी चर्चा में है।

एनकाउंटर में मारे गए सोनू पंजाबन के सारे पति

बताया जाता है कि सोनू पंजाबन सबसे पहले बाहरी दिल्ली स्थित नजफगढ़ इलाके के रहने वाले दीपक नाम के एक वाहन ​चोर के करीब आई। प्यार हुआ सोनू पंजाबन और दीपक ने शादी कर ली। इसके बाद साल 2003 में असम पुलिस ने दीपक को एनकाउंटर में ढेर कर दिया। दीपक के एनकाउंटर के बाद गीता चोपड़ा उर्फ सोनू पंजाबन ने दीपक के भाई हेमंत से शादी कर ली, वह भी अपराध की दुनिया में था। कहा जाता है कि हेमंत से शादी होने के बाद ही गीता चोपड़ा को नया नाम 'सोनू पंजाबन' दिया गया। 3 साल बाद यानी वर्ष 2006 में दिल्ली से सटे गुरुग्राम में पुलिस ने हेमंत को भी एक मुठभेढ़ में ढेर कर दिया। इस तरह 4 साल के भीतर ही सोनू पंजाबन 2 बार विधवा हो गई।

प्रेमियों के अपराध में संलिप्त होने की वजह से हत्या में नाम जुड़ने के बाद रोहतक (हरियाणा) के नामी गैंगस्टर विजय से सोनू पंजाबन ने लव मैरिज की थी। यह शादी अन्य लोगों की जानकारी में नहीं आई, लेकिन इसे सोनू पंजाबन की चारों शादियों में शुमार किया जाता है। बताया जाता है कि गैंगस्टर विजय खूंखार हिस्ट्रीशीटर श्री प्रकाश शुक्ला का करीबी था, जिसका 1998 में यूपी के गाजियाबाद में एनकाउंटर हुआ था। सोनू पंजाबन की किस्मत यहां भी खराब निकली उत्तर प्रदेश विशेष जांच दल (UP STF) ने विजय को हापुड़ में मार दिया। कहा जाता है कि सोनू पंजाबन ने सहारे के लिए अशोक बंटी नाम का एक अपराधी से भी शादी की थी और अशोक ने ही सोनू को देहव्यापार के धंधे में उतारा था। कुछ सालों बाद दिल्ली पुलिस ने अशोक बंटी को भी एक एनकाउंटर में मार दिया। इसके बाद सोनू पंजाबन खुद ही अपने बूते देह व्यापार के धंधे में उतर गई।

दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में चलाया देह व्यापार का धंधा

बताया जाता है कि 5 फीट और 4 इंच लंबी गीता अरोड़ा उर्फ सोनू पंजाबन ने अपनी खूबसूरती के दम पर सिर्फ दिल्ली-एनसीआर ही नहीं, बल्कि देश के हर कोने में देह व्यापार का धंधा खड़ा किया। इस दौरान उसके हुश्न के दीवाने कई अधिकारी भी हुए, जिनके दम पर वह इस अवैध धंधे में कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ती गई। इस दौरान सोनू पंजाबन की खूबसूरती और चालाकी ने खूब किया किया। पैसे बरसने लगे। हालांकि, इस दौरान देह व्यापार के आरोप में वह कई बार जेल भी गई, लेकिन सजा नहीं मिल पाई। 

तिहाड़ जेल में सजा काट रही है सोनू पंजाबन

देह व्यापार की दुनिया में लेडी डॉन सोनू पंजाबन को साल 2017 में एक 16 साल की लड़की से देह व्यापार कराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इस केस में कई सालों की सजा हुई है और वह अभी सोनू तिहाड़ में बंद है। केस 16 साल की लड़की से जुड़ा था, जिसे सोनू पंजाबन ने अपने गैंग के साथ मिलकर ने कई जगहों पर बेचा जहां उसका कई बार अलग-अलग लोगों ने दुष्कर्म किया। फिर लड़की किसी तरह वहां से भागकर अपने घर पहुंच गई थी। इसके बाद पूरे मामला का खुलासा हुआ।

सामान्य परिवार से है सोनू पंजाबन, पिता चलाते थे रिक्शा

पूर्वी दिल्ली की गीता कॉलोनी में पैदा हुई गीता अरोड़ा उर्फ सोनू पंजाबन से बेहद सामान्य परिवार से है। मूलरूप से उसका परिवार हरियाणा के रोहतक का है। सोनू के पिता ओम प्रकाश अरोड़ा पाकिस्तान से आए शरणार्थी थी। वह हरियाणा के रोहतक में आकर बसे थे। कुछ समय बाद ओम प्रकाश अरोड़ा दिल्ली आए और ऑटोरिक्शा चलाकर परिवार चलाने लगे। बेटी कब देह व्यापार के धंधे की शहजादी बन गई पिता को भी पता नहीं चला, लेकिन लोग बताते हैं कि एक उम्र के बाद पिता ने सोनू पंजाबन को टोकना छोड़ दिया। 

Edited By: Jp Yadav