नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। भीषण गर्मी और उमस का सामना कर रहे दिल्ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों के लिए भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से राहत भरी खबर आ रही है। उमस भरी गर्मी से बेहाल दिल्ली वासियों पर यूं तो शनिवार से ही राहत की बौछारें पड़ने लगेंगी। लेकिन इससे भी बड़ी राहत भरी खबर यह है कि इस बार दिल्ली में मानसून भी 12 दिन पहले पहुंच जाएगा। इसकी तय तिथि 27 जून है लेकिन मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि यह 15 जून को ही राजधानी दिल्ली में दस्तक दे देगा। इसी के साथ मानसून इस बार हरियाणा के कुछ हिस्सों और पंजाब में भी उपस्थिति दर्ज करा सकता है। वेस्ट यूपी में इसकी धमक दिल्ली से थोड़ा पहले ही हो जाती है जबकि उत्तरी राजस्थान में जुलाई के पहले सप्ताह तक आ जाता है। 

प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र दिल्ली के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव के मुताबिक इससे पहले वर्ष 2008 और 2013 में भी दिल्ली में 15-16 जून के लगभग हवाओं के साथ मानसून की दस्तक दर्ज की गई थी। इस बार भी मानसून आने का तय समय हालांकि 27 जून के आसपास माना जा रहा था, लेकिन दक्षिण पश्चिम मानसून की सक्रियता की वजह से अब यह 12 दिन पहले ही दस्तक दे सकता है।

कई राज्यों में दिखेगा मानसून का असर

मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव वाला क्षेत्र बन रहा है। इसका असर आगामी तीन से चार दिनों में उड़ीसा, झारखंड और उत्तरी छत्तीसगढ़ के इलाकों में देखने को भी मिल सकता है। कम दबाव वाले क्षेत्र की वजह से दक्षिणी पंजाब की ओर से टर्फ केंद्र के बीच पहुंचेगी। साथ ही दक्षिण पश्चिम हवाओं का रुख भी पश्चिमी तटीय इलाकों से होते हुए बढ़ेगा। ऐसे में इस अनुकूल स्थिति की वजह से दक्षिण पश्चिमी मानसून का असर दक्षिणी राजस्थान और कच्छ के बाहरी इलाकों में भी पांच से छह दिनों के भीतर देखने को मिल सकता है।

इन 3 कारणों से दिल्ली में जल्दी आ रहा मानसून

कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि मानसून के जल्दी आने के तीन प्रमुख कारण हैं। इसमें बड़े क्षेत्र में बारिश का होना, अधिक बारिश का होना और हवाओं का जल्दी आना शामिल है। वर्ष 2013 में मानसून ने 16 जून तक पूरे देश में दस्तक दे दी थी। वहीं, पिछले वर्ष भी आठ जुलाई के तय समय से पहले 29 जून तक हवाओं ने जल्दी दस्तक दी थी।

इसे भी पढ़ेंः प्यार में बदल गई दो लड़कियों की दोस्ती, रिश्ते-नाते तोड़ रचा ली शादी; पढ़े- अजब प्रेम की गजब कहानी

राजस्थान में देरी से पहुंचेगा मानसून

वहीं स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष महेश पलावत ने बताया कि मौसम विभाग 15 जून कह रहा है। हमारा भी मानना है कि 17 तक तो मानसून दिल्ली पहुंच ही जाएगा। शनिवार से बारिश का जो दौर शुरू होने की संभावना है, वह कई दिन चलेगा। तेज हवा भी लगातार कई दिन बनी रहेगी। हालांकि पलावत ने यह भी बताया कि दिल्ली में तो मानसून समय से पहले आ जाएगा, लेकिन राजस्थान में थोड़ा विलंब से पहुंचेगा। 

 ये भी पढ़ेंः पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनने की जरूरत नहीं? पढ़ें- क्या कहते हैं डॉक्टर