नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। मध्य पाकिस्तान और जम्मू कश्मीर में सक्रिय हुए एक नए पश्चिमी विक्षोभ के असर से मंगलवार को दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में भी मौसम ने करवट ली। पहाड़ों पर अच्छी बारिश हुई तो मैदानी इलाकों में धूल भरी आंधी के साथ हल्की बारिश देखने को मिली। सीकर सहित राजस्थान में कई जगहों पर ओलावृष्टि की भी सूचना है। मौसम के इस बदलाव ने गर्मी से भी खासी राहत प्रदान की। बुधवार को भी कहीं आसमान साफ रहने और कहीं हल्की बारिश होने के आसार हैं, जबकि बृहस्पतिवार को एक और नए पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखाई पड़ने की संभावना है।

आज भी बारिश होने के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को दिल्ली एनसीआर में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। कहीं-कहीं हल्की बारिश भी हो सकती है। हलांकि संभावना बहुत ज्यादा नहीं है। वहीं, स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि बृहस्पतिवार को फिर से जम्मू कश्मीर की ओर पहाड़ों पर एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। इसके असर से वैसे तो मुख्य रूप से हरियाणा और पंजाब में ही बारिश होने के आसार हैं, लेकिन दिल्ली एनसीआर पर भी इसका आंशिक असर देखने को मिल सकता है।

मौसम विभाग ने मंगलवार को मौसम के करवट लेने का पूर्वानुमान पहले से ही जारी कर रखा था। सुबह पहाड़ों पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ तो शाम तक चक्रवाती हवा का दबाव क्षेत्र बनने से दिल्ली- एनसीआर सहित उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के भी ज्यादातर इलाकों में इसका असर दिखाई देने लगा। देर शाम तक काफी जगह बारिश हो चुकी थी तो कई जगह शुरू हो गई थी।

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली में लॉकडाउन लगाने का भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने किया केजरीवाल का समर्थन, दी ये नसीहत

दिल्ली एनसीआर में शाम के समय 15 से 20 कि.मी. प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवा भी चली और फिर हल्की बारिश हुई। बादलों और सूरज के बीच आंखमिचौली दिन भर चलती रही। इसी के चलते तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। दिल्ली का अधिकतम तापमान मंगलवार को सामान्य से चार डिग्री कम 33.8 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम 19.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 32 से 68 फीसद रहा।

ये भी पढ़ेंः बुखार आता है तो कोरोना समझकर परेशान न हों, ये वायरल भी हो सकता है; डॉक्टर ने दी ये सलाह

 ये भी पढ़ेंः कोरोना के सामने आए ये नए लक्षण, अगर है तो तुरंत कराएं जांच, लापरवाही पड़ सकती है भारी

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021