नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। ठंड और कोहरे के बीच मंगलवार को एक बार फिर से दिल्ली-एनसीआर की हवा दमघोंटू हो गई। गुरुग्राम को छोड़ सभी जगहों का एयर इंडेक्स गंभीर श्रेणी में पहुंच गया। दिल्ली के भी अधिकांश इलाके रेड जोन में पहुंच गए। पिछले सप्ताह भी लगातार तीन दिन तक दिल्ली-एनसीआर की हवा गंभीर श्रेणी में रही थी। एक सप्ताह के भीतर दोबारा वही स्थिति उत्पन्न हो गई है। हालांकि, सफर इंडिया का पूर्वानुमान है कि हवा की रफ्तार बढ़ने पर बुधवार से प्रदूषण में सुधार होने लगेगा। मंगलवार को दिल्ली-एनसीआर में सभी जगह सुबह के समय घना कोहरा छाया रहा। हवा नहीं के बराबर चलने से प्रदूषक तत्व वातावरण में जमे ही रहे। ऐसे में सुबह से ही हवा दमघोंटू होनी शुरू हो गई थी। दिल्ली-एनसीआर के 36 एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग स्टेशनों में से भी ज्यादातर पर एयर इंडेक्स 400 के पार यानी गंभीर श्रेणी में रिकार्ड किया गया।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 404 दर्ज किया गया। सोमवार को यह 372 रहा था। एक ही दिन में इसमें 32 अंकों की वृद्धि हो गई। गुरुग्राम की हवा खराब जबकि अन्य सभी जगहों की गंभीर श्रेणी में रही। शाम पांच बजे दिल्ली की हवा में पीएम 2.5 का स्तर 245 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर जबकि पीएम 10 का स्तर 413 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया। मालूम हो कि यह क्रमश: 60 और 100 से अधिक नहीं होना चाहिए।

केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधीन वायु गुणवत्ता निगरानी संस्था सफर इंडिया के मुताबिक अभी तापमान कम होने और हवा में ठंडक होने से प्रदूषक तत्व उड़ नहीं पा रहे हैं। हवा की रफ्तार नहीं के बराबर रही। कोहरा छाने से यह समस्या और बढ़ गई है, लेकिन बुधवार को हवा की रफ्तार 15 से 20 किमी प्रति घंटा रहने की संभावना है। इससे प्रदूषण घटने और एयर इंडेक्स गंभीर श्रेणी से गिरकर बहुत खराब श्रेणी में आ जाने के आसार हैं।

दिल्ली- एनसीआर का एयर इंडेक्स

  • दिल्ली 404
  • फरीदाबाद 416
  • गाजियाबाद 436
  • ग्रेटर नोएडा 434
  • गुरुग्राम 366
  • नोएडा 432  

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप