नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली में फेज तीन के सिर्फ दो कॉरिडोर पर परिचालन के लिए शेष हैं। इनमें पिंक लाइन पर लाजपत नगर-मयूर विहार पाकेट-1 और द्वारका-नजफगढ़ कॉरिडोर शामिल हैं। राहत की बात यह है कि लाजपत नगर से मयूर विहार के बीच (9.70 किलोमीटर) अगले माह के अंत तक परिचालन शुरू हो जाएगा। इस कॉरिडोर पर परिचालन शुरू होने के बाद निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन मेट्रो कॉरिडोर से जुड़ जाएगा।

मौजूदा समय में नई दिल्ली, पुरानी दिल्ली व आंनद विहार जैसे तीन बड़े रेलवे स्टेशन मेट्रो नेटवर्क से जुड़े हैं। लाजपत नगर-मयूर विहार पाकेट-1 पर सराय काले खां की तरफ मेट्रो स्टेशन बनाया गया है। यह स्टेशन निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन को मेट्रो नेटवर्क से जोड़ेगा, इसलिए इस कॉरिडोर पर परिचालन शुरू होने से दिल्ली के सभी बड़े रेलवे स्टेशन मेट्रो नेटवर्क से जुड़े जाएंगे और रेल यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी।

उल्लेखनीय है कि 58.59 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन के 47.52 किलोमीटर हिस्से पर मेट्रो का परिचालन शुरू हो गया है। इस पर दो हिस्सों में मेट्रो का परिचालन हो रहा है। हाल ही में शिव विहार से त्रिलोकपुरी के बीच परिचालन शुरू हुआ है। इसके पहले से मजलिस पार्क से लाजपत नगर के बीच परिचालन हो रहा है। लाजपत नगर से मयूर विहार पाकेट-1 के बीच पांच सितंबर को मेट्रो का ट्रायल शुरू हुआ था।

उम्मीद है कि अगले महीने के मध्य तक ट्रायल पूरा हो जाएगा। इसके बाद यह कॉरिडोर परिचालन के लिए तैयार हो जाएगा। बताया जा रहा है कि सुरक्षा मानकों की जांच और स्वीकृति से संबंधित कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद दिसंबर के अंत तक इस कॉरिडोर पर परिचालन शुरू हो जाएगा।

इस कॉरिडोर पर होंगे पांच स्टेशन इस कॉरिडोर पर पांच स्टेशन बनाए गए हैं, जिनमें विनोबा पुरी, आश्रम, हजरत निजामुद्दीन, मयूर विहार-1 और मयूर विहार पॉकेट-1 स्टेशन शामिल हैं। इस तरह लाजपत नगर-मयूर विहार पाकेट-1 कॉरिडोर पर परिचालन शुरू होने पर पिंक लाइन के 57.22 किलोमीटर हिस्से पर मेट्रो की सुविधा हो जाएगी। हालांकि, त्रिलोकपुरी से मयूर विहार पाकेट-1 के बीच थोड़े हिस्से पर काम बंद होने के कारण पिंक लाइन का पूरा कॉरिडोर अभी आपस में जुड़ नहीं पाएगा।

19 को होगा बल्लभगढ़ मेट्रो स्टेशन का उद्घाटन

वहीं, राजा बल्लू की नगरी के लोगों को जिस घड़ी का इंतजार था, वो नजदीक आ गई है। पीएम नरेंद्र मोदी 19 को जब गुरुग्राम में केएमपी के उद्घाटन के अवसर पर रिमोट के जरिए बल्लभगढ़ मेट्रो का भी शुभारंभ करेंगे, तो एतिहासिक नगरी के लोगों का दिल्ली आवागमन आसान हो जाएगा।

उद्घाटन की तिथि को देखते हुए डीएमआरसी ने भी अपनी तैयारियां को तेज कर दिया है। मुजेसर एस्कार्टस से लेकर बल्लभगढ़ तक 3.9 किलोमीटर लंबी मेट्रो लाइन के विस्तार पर अनुमानित 530 करोड़ रुपये की लागत आई है और यहां दो स्टेशन बनाए गए हैं।

गत विधानसभा चुनाव से पहले ही इस परियोजना के विस्तार का शिलान्यास हुआ था। मेट्रो बल्लभगढ़ पहुंचने की अंतिम तिथि दिसंबर-2017 थी, लेकिन ट्रैक तैयार नहीं होने से अंतिम तिथि बार-बार बढ़ती रही और अब अंतिम इंतजार खत्म होने वाला है।