जागरण संवाददाता, नई दिल्ली :

हज यात्रियों के लिए एयरपोर्ट पर असुविधाजनक प्रबंध का आरोप लगाते हुए कुछ सामाजिक संगठनों ने तुर्कमान गेट स्थित दिल्ली हज कमेटी के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया। इस बारे में गु्रप आफ हज एंड सोशल वर्क ऑर्गेनाइजेशन के प्रवक्ता व फेडरेशन ऑफ मुस्लिम आर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष शफी देहलवी ने कहा कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा में हज यात्रियों के लिए शिविर टर्मिनल से तीन किमी दूर बनाया गया है। इससे हज यात्रियों की मुश्किलें बढ़नी तय है।

उन्होंने कहा कि हज यात्रियों से इस बार पिछले वर्ष से अधिक किराया वसूला जा रहा है। इसके साथ ही एयरपोर्ट टैक्स भी लिया जा रहा है, लेकिन उनको सुविधाएं कुछ नहीं मिल रही, बल्कि अव्यवस्थाओं से उनकी परेशानी बढ़ने वाली है। देहलवी ने कहा कि तीन किमी की दूरी सुरक्षा के नाम पर रखी गई है, लेकिन सवाल यह है कि अब तक किसी भी हज यात्री या उनके रिश्तेदारों ने किसी भी प्रकार की सुरक्षा में बाधा उत्पन्न नहीं की है। फिर इस तरह का प्रबंधन मुश्किलें बढ़ाने वाला है। विरोध प्रदर्शन में शहजाद मलिक, हाजी जहूर, हाजी इदरीस व हाजी मुस्तकीम समेत अन्य शामिल रहे।

14 जुलाई को जाएगा हज यात्रियों का पहला जत्था

हज यात्रा के लिए यात्रियों का पहला जत्था 14 जुलाई को इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा से रवाना होगा। दिल्ली हज कमेटी के कार्यकारी अधिकारी ए ए अरफी ने बताया कि इस मौके पर केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी व हज कमेटी आफ इंडिया के अध्यक्ष चौधरी महबूब अली कैसर के अलावा हज कमेटी से जुड़े अधिकारियों की उपस्थिति रहेगी।

By Jagran