जागरण संवाददाता, पश्चिमी दिल्ली :

जनकपुरी में भारत विकास परिषद व श्री शिव शक्ति सनातन धर्म मंदिर के संयुक्त तत्वावधान में सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें 10 निर्धन कन्याओं का विवाह कराया गया। संस्था की ओर से लगातार 12वें वर्ष इसका आयोजन किया गया। वैदिक रीति रिवाज से विवाह संपन्न हुआ।

संस्था के पदाधिकारियों ने बताया कि भारत विकास परिषद की ओर से इसका आयोजन किया जाता है। इसमें निर्धन कन्याओं का विवाह कराया जाता है। सभी नवविवाहित दंपती को रोजमर्रा में इस्तेमाल होने वाली गृहस्थी के सामान दिए गए। वीके मल्होत्रा ने बताया कि इसमें उन कन्याओं का विवाह कराया जाता है, जिनके माता-पिता नहीं हैं या जिनके परिजनों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। दहेज प्रथा के कारण गरीब परिवारों को बेटी की शादी में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में सामाजिक संगठनों को दहेज प्रथा के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। इस मौके पर केबी महाजन, डॉ अशोक गौड़, सुनील जैन, बलदेव राज मेहता, नवनीत भल्ला, ऋषि भल्ला और पुरुषोत्तम कालरा उपस्थित थे।

Posted By: Jagran