जासं, नई दिल्ली :

गांधी जयंती के मौके पर जंतर-मंतर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जिसमें गांधीजी के विचार अपनाने के साथ उनके पंचायतों को सशक्त बनाने की कोशिशों को पूरा करने पर जोर दिया गया। राष्ट्रीय पंचायतीराज संगठन द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन में राज्यों द्वारा पंचायतों को अधिक अधिकार न देने का आरोप लगाया गया। एक अन्य कार्यक्रम में जंतर मंतर पर मध्य प्रदेश से भी काफी संख्या में ग्रामीण जुटे और पंचायतों को सशक्त करने की मांग की। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा कि संविधान में 73वां व 74वां संशोधन लागू होने के बाद भी पंचायती राज एक्ट लालफिताशाही के चंगुल में फंस गया है।

राष्ट्रीय चेतना अभियान द्वारा भी जंतर-मंतर पर बापू की जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया और बापू की शिक्षाओं को जीवन में उतारने पर जोर दिया गया। उधर, राजघाट से आइटीओ तक पदयात्रा का आयोजन किया गया। इस बारे में स्वर्ण भारत पार्टी के प्रवक्ता राहुल पंडित ने कहा कि यात्रा के माध्यम से देश में स्वच्छ शासन प्रणाली लागू करने पर जोर दिया गया।