नई दिल्ली। डीडीसीए मामले में पार्टी लाइन के खिलाफ जानेवाले भाजपा के निलंबित सांसद-नेता कीर्ति आज़ाद ने आज डीडीसीए पर हमला बोला है। डीडीसीए के आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि वहां पर बड़ी गड़बड़ियां हुई हैं।

भाजपा से निलंबित सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने उनके ऊपर लगातार लग रहे आरोपों का खंडन किया है। भाजपा सांसद ने कहा कि उन्होंने सोनिया गांधी के इशारे पर कोई काम नहीं किया, बल्कि खिलाड़ी होने के नाते ऐसी धांधलियों के खिलाफ आवाज उठाई।

केजरीवाल का ट्वीट 'DDCA भ्रष्टाचार की जांच में अरुण जेटली को क्लीन चिट नहीं'

मुझसे जलते हैं कुछ लोग

पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने पत्रकार वार्ता में कहा कि उन्हें देखकर कुछ लोग जलते हैं, लेकिन उन्हें बदनाम करना ठीक नहीं है। इस दौरान उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया।

खेल में भ्रष्टाचार छिपाने की कोशिश

आज सुबह पत्रकार वार्ता कर भाजपा सांसद ने कहा कि डीडीसीए में भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने आरोप पर कायम हूं।

पार्टी के खिलाफ कुछ नहीं कहा

भाजपा से निलंबित सांसद ने कहा कि मैंने पार्टी के खिलाफ कुछ भी गलत नहीं कहा। मुझ पर गलत आरोप लगाए गए।

खेलों में भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग रहेगी जारी

डीडीसीए से नाराज कीर्ति आजाद ने कहा कि वे खेलों में भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ते रहे हैं और आगे भी लड़ते रहेंगे। उन्होंने दोहराया कि डीडीसीए में घोर गड़बड़ियां हुई हैं।

यहां पर याद दिला दें कि डीडीसीए मसले पर हमलावर रुख अख्तियार करनेवाले कीर्ति आजाद अपने निलंबन के बाद से ही लगातार पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह समेत शीर्ष नेताओं को कठघरे में खड़े कर रहे हैं।

निलंबन के बाद मीडिया के सामने आए कीर्ति आजाद ने कहा था कि वे प्रधानमंत्री कार्यालय को फोन करेंगे और वहां फोन कर पीएम मोदी से मिलने का वक्त मांगेंगे।

कीर्ति आजाद ने निलंबित होने के बाद कहा था कि अब आगे-आगे देखिए होता है क्या। हालांकि, अपनी बेगुनाही में जेटली ने कई तर्क दिए और कहा कि उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर किसी के ऊपर कोई लांछन नहीं लगाए हैं।

आजाद का ये भी कहना था कि अगर पार्टी को किसी तरह की दिक्कत थी तो पहले उसे नोटिस देना चाहिए था। हालांकि, गौर करनेवाली बात यहां पर ये भी है कि जिस वक्त कीर्ति आजाद ने डीडीसीए में घोटाला उजागर करने का ऐलान किया था उससे पहले भी भाजपा अध्यक्ष ने उन्हें पार्टी लाइन के बाहर ना जाने और ऐसा ना करने की सख्त हिदायत दी थी।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस