जासं, नई दिल्ली : नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के स्टे के बावजूद बाहरी रिंग रोड पर पेड़ों की कटाई का मामला सामने आया है। विकासपुरी-मीरा बाग रोड पर आधा दर्जन से ज्यादा पेड़ों की कटाई के बाद पर्यावरणविद कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की योजना बना रहे हैं।

पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करने वाले आदित्य ने बताया कि लोक निर्माण विभाग ने वन विभाग को सौंपी गई रिपोर्ट में बताया था कि विकासपुरी से मीरा बाग के बीच 1177 पेड़ हैं। मौके पर पहुंचकर जब जांच की गई तो संख्या 1800 से ज्यादा मिली। लोक निर्माण विभाग से जब पूछा गया, तो उसने बताया कि 1177 में से 785 पेड़ों के काटने की अनुमति है। हकीकत ये है कि एनजीटी ने जून में पेड़ों की कटाई पर स्टे आर्डर जारी किया था। इसके बाद सड़क के बीचोबीच आने वाले 67 पेड़ों की कटाई का आदेश दिया था। आदित्य की मानें तो कुछ दिनों में बाहरी रिंग रोड पर धड़ल्ले से पेड़ों की कटाई की जा रही है। आधा दर्जन से ज्यादा पेड़ काटे जा चुके हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021