नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए जल्द ही नया कानून आएगा। पर्यावरण मंत्रालय के एक अधिकारी, सचिव आरपी गुप्ता ने यह जानकारी देते हुए कहा कि यह कानून केवल दिल्ली-एनसीआर में ही लागू होगा। फिलहाल इस कानून में जुर्माना संबंधी कोई जानकारी नहीं दी गई है। एनसीआर में बढ़ रहे प्रदूषण की रोकथाम के लिए यह कानून तैयार किया जाएगा। 

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-एनसीआर में वायु की गुणवत्ता के खराब होने पर भी चिंता जताई थी। इस संदर्भ में केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से प्रदूषण को रोकने के लिए नया कानून लाने की बात कही थी और चार दिनों के भीतर इस कानून का प्रस्ताव पेश करने को भी कहा था।  इसके बाद ही गुप्ता की यह प्रतिक्रिया सामने आई है। बता दें कि सोमवार को भी लगातार चौथे दिन  दिल्ली एनसीआर की वायु गुणवत्ता का स्तर  353 रहा, जो बेहद ही खराब श्रेणी में दर्ज किया जाता है। 

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी संस्था सफर के मुताबिकष  दिल्ली एनसीआर में वायु की गुणवत्ता 31 अक्टूबर तक बहुत खराब श्रेणी में बनी रहने की आशंका है। बता दें कि शहर में सोमवार को औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 353 रहा जबकि रविवार को यह 349 रहा तो शनिवार को 345 और शुक्रवार को 366  दर्ज किया गया था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस