अभिषेक त्रिपाठी, नॉटिंघम। तीन दिन से पानी-पानी हो रखे नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज स्टेडियम की पिच और आधा मैदान बुधवार को भी कवर के आगोश में रहे। कुछ देर के लिए जरूर बारिश रुकी थी जिसमें भारतीय खिलाडि़यों ने बल्लेबाजी का अभ्यास किया, लेकिन उसके बाद फिर बरखा रानी वापस आ गई। मौसम विभाग ने गुरुवार को भी बारिश की संभावना 50 फीसद जताई है और ऐसे में यहां होने वाले 50-50 ओवर के भारत-न्यूजीलैंड मैच की संभावना 50-50 है। कुछ देर बारिश रुकी और मैदानकर्मियों ने मैदान सुखा लिया तो इस मैच को कम से कम 20-20 का भी कराया जा सकता है। अगर बारिश का प्रकोप जारी रहा तो मैच को रद घोषित किया जाएगा और भारत-न्यूजीलैंड के बीच एक-एक अंक बांट दिया जाएगा। इससे पहले इस विश्व कप के तीन और मैच बारिश के कारण रद हो चुके हैं।

छोटे मैच की बड़ी मुश्किल : लगातार बारिश के कारण पिच में नमी है। भारतीय टीम के ओपनर शिखर धवन हाथ में फ्रैक्चर के कारण इस मैच में नहीं खेलेंगे। ऐसे में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के दमदार तेज आक्रमण के सामने और मुश्किल होगी। न्यूजीलैंड ने विश्व कप के अभ्यास मैच में ट्रेंट बोल्ट, नीशाम और लॉकी फर्ग्यूसन जैसे तेज गेंदबाजों की बदौलत भारत को हार का स्वाद चखाया था। बारिश के कारण अगर ओवरों में कटौती होती है तो न्यूजीलैंड का तेज गेंदबाजी आक्रमण भारत के लिए और भारी पड़ सकता है। पिच में नमी होने और आसमान में बादल होने पर तेज गेंदबाजों की गेंद स्विंग करती है और ऐसे में टीम इंडिया के ओपनरों रोहित शर्मा व केएल राहुल को उन्हें खेलने में खासी दिक्कत का सामना करना पड़ेगा। धवन की अनुपस्थिति में केएल राहुल पारी का आगाज करेंगे। हाथ में प्लास्टर बांधकर घूम रहे धवन अगले तीन मैचों में नहीं खेल पाएंगे।

दिनेश कार्तिक या विजय शंकर : दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे नंबर खेलने वाले केएल राहुल के गुरुवार को ओपनिंग करने पर दिनेश कार्तिक या विजय शंकर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। इन दोनों ने बुधवार को 30-30 मिनट बल्लेबाजी की। शंकर में ऑलराउंड क्षमता है तो कार्तिक अनुभवी हैं। काले घने बादल और नमी वाली परिस्थितियों को देखते हुए मुहम्मद शमी को भी कलाई के किसी स्पिनर के बदले अंतिम एकादश में रखा जा सकता है। अगर शंकर और कार्तिक दोनों को अंतिम एकादश में जगह मिलती है तो केदार जाधव को बाहर बैठना होगा। टीम में इस तरह के बदलाव के लिए इससे आदर्श समय नहीं हो सकता है।

पांड्या होंगे उपयोगी : भारतीय टीम के लिए इस मैच में सबसे ज्यादा उपयोगी ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या साबित होंगे। पिछले मैच में भी कप्तान विराट ने उन्हें चौथे नंबर पर उतारा था। वह टी-20 के मास्टर हैं। ऐसे में अगर यहां कम ओवर का मैच होता है तो उनके आइपीएल शॉट से टीम को फायदा मिलेगा। वह पहली ही गेंद से शॉट मारने की क्षमता रखते हैं। यॉर्कर हो या ऑफसाइड से बाहर की यॉर्कर, वह किसी भी गेंद को छक्के के लिए पहुंचा सकते हैं। हालांकि ट्रेंट बोल्ट के खिलाफ वह 35 गेंदों पर सिर्फ 32 रन बना पाए हैं और बोल्ट ने उन्हें तीन बार आउट किया है।

बोल्ट, नीशाम और फर्ग्यूसन हैं खतरनाक : विश्व कप के दूसरे अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को सिर्फ 179 रनों पर ऑलआउट करके छह विकेट से पराजित किया था। उस मैच में बोल्ट ने चार, नीशाम ने एक और फग्र्यूसन ने तीन विकेट लिए थे। इसके अलावा तेज गेंदबाज टिम साउथी और ग्रैंड्सहोम ने एक-एक विकेट लिया था। यानी न्यूजीलैंड ने उस मैच में तेज और मध्यम गति के गेंदबाजों से हमला करके भारतीय बल्लेबाजी को चकनाचूर कर दिया था। गुरुवार को भी यहां के हालात ऐसे ही हैं और ऐसे में केन विलियमसन की टीम भारत के ऊपर फुल पेस अटैक करेगी। यह मैदान छोटा है, लेकिन एक दिन पहले ही फग्र्यूसन कह चुके हैं कि वह यहां पर वेस्टइंडीज की बाउंसर रणनीति अपनाएंगे। वेस्टइंडीज ने विश्व कप में जिस तरह पाकिस्तान और इंग्लैंड के खिलाफ बाउंसर फेंकी हैं। इस तरह की परिस्थितियों में राहुल और रोहित के लिए पारी का आगाज करना आसान नहीं होगा। इन दोनों को पावरप्ले में कम से कम जोखिम लेते हुए बाद के ओवरों में रन बनाने होंगे। हालांकि, अगर यह मैच 20-20 ओवर का हुआ तो भारतीय बल्लेबाजों को दोधारी तलवार पर चलना होगा। रोहित ने पहले दो मैचों में एक शतक और एक अर्धशतक जमाया है लेकिन उन दोनों मैचों में गेंदबाजों को स्विंग नहीं मिली थी।

न्यूजीलैंड है मजबूत : न्यूजीलैंड ने अब तक अपने तीनों मैच जीते हैं और उसकी टीम आत्मविश्वास से भरी है। वह अपना विजय अभियान जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच इंग्लैंड की सरजमीं पर विश्व कप में अब तक जो तीन मैच खेले गए हैं उन सभी में कीवी टीम विजयी रही है। कोहली की टीम के लिए उसके इस विजय अभियान पर रोक लगाने की भी चुनौती होगी। टीम की गेंदबाजी तो मजबूत है ही, साथ ही उसके पास मार्टिन गुप्टिल, कोलिन मुनरो, केन विलियमसन और रॉस टेलर जैसे बल्लेबाज भी हैं जो हर परिस्थिति में रन बनाने की क्षमता रखते हैं। हालांकि विलियमसन भारतीय स्पिनरों के सामने फीके नजर आते हैं। कुलदीप यादव, युजवेंद्रा सिंह चहल और केदार जाधव उन्हें दो-दो बार आउट कर चुके हैं।

नंबर गेम :

-4681 रन रोहित और धवन की सलामी जोड़ी ने भारत के लिए बनाए हैं, लेकिन धवन के चोटिल होने के कारण इस मैच में रोहित-राहुल ओपनिंग कर सकते हैं

-57 रन कोहली को चाहिए 11000 वनडे रन पूरे करने के लिए। अगर वह ऐसा करते हैं तो 222 पारी में वह 11000 रन बनाने वाले इकलौते बल्लेबाज होंगे। सचिन ने 276 पारियों में ऐसा किया था

-79 के औसत से पिछले कुछ वर्षो में रॉस टेलर ने वनडे में न्यूजीलैंड के लिए रन बनाए हैं। वह टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। उनका भारतीय स्पिनरों के खिलाफ रिकॉर्ड भी अच्छा है

पिच रिपोर्ट

यहां की पिच बल्लेबाजों के मुफीद है, लेकिन यहां पर उछाल भी मिलता है। यह मैच नई पिच पर खेला जाएगा। न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लॉकी फग्र्यूसन ने कहा है कि वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने दिखाया कि ट्रेंट ब्रिज में कुछ अतिरिक्त उछाल मिलती है और इससे बल्लेबाजों को परेशानी हो सकती है। मैं इस चुनौती के लिए तैयार हूं क्योंकि मुझे एक मैदान के तौर पर ट्रेंट ब्रिज पसंद है। पिच में नमी और बादल होने के कारण तेज गेंदबाजों को फायदा मिलेगा।

मैदान रिपोर्ट

यह मैदान कई छोर पर छोटा है और यहां पर खूब चौके-छक्के लगते हैं। यहां पर अधिकतर टीमें लक्ष्य का पीछा करना चाहती हैं। आठ जुलाई 2015 से अब तक यहां पर पहली पारी का औसत स्कोर 390 रन है।

मौसम रिपोर्ट

तीन दिन से बारिश हो रही है। गुरुवार को भी बारिश की संभावना है। पूरे नॉटिंघम में बादल छाए हुए हैं।

टीमें इस प्रकार हैं :

भारत- विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, केएल राहुल, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, केदार जाधव, विजय शंकर, कुलदीप यादव, युजवेंद्रा सिंह चहल, जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, दिनेश कार्तिक, रवींद्र जडेजा, शिखर धवन।

न्यूजीलैंड- केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, कोलिन मुनरो, जेम्स नीशाम, हेनरी निकोलस, मिशेल सेंटनर, ईश सोढ़ी, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन डि ग्रैंडहोम, लॉकी फग्र्यूसन, टिम साउथी, रॉस टेलर, टॉम ब्लंडेल (विकेटकीपर)।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप