टांटन, प्रेट्र। बांग्लादेश की टीम जब सोमवार को वेस्टइंडीज का सामना करने उतरेगी तो वह मनोवैज्ञानिक फायदे की स्थिति में होगी। हालांकि, जहां तक दोनों ही टीमों के विश्व कप में अभियान की बात है तो दोनों ही टीमें एक ही कश्ती में सवार नजर आ रही हैं।

विश्व कप से पहले आयरलैंड में हुई त्रिकोणीय सीरीज में बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को तीन बार हराया था। भले ही क्रिस गेल और आंद्रे रसेल जैसे सितारे खिलाड़ी वेस्टइंडीज की उस टीम का हिस्सा नहीं थे, लेकिन फिर भी जेसन होल्डर की टीम को पिछले महीने मिली लगातार तीन हार की वजह से सचेत रहना होगा। दोनों ही टीमों के चार-चार मैचों में तीन-तीन अंक हैं। दोनों टीमों को दो-दो मैचों में शिकस्त मिली है और दोनों का एक-एक मैच बारिश की वजह से धुल गया है।

बांग्लादेश ने अपना पिछला मैच आठ जून को खेला था, जिसमें उसे इंग्लैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। श्रीलंका के खिलाफ मैच बारिश की वजह से धुलने के कारण बांग्लादेश को एक सप्ताह का ब्रेक लेने पर मजबूर होना पड़ा था। ऐसे में बांग्लादेश की टीम मैदान पर उतरने को उत्सुक होगी। उसके पास श्रीलंका के खिलाफ दो अंक हासिल करने का मौका था, लेकिन मौसम ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। मशरफे मुर्तजा की अगुआई वाली टीम ने अभी तक टूर्नामेंट में अच्छी बल्लेबाजी की है, लेकिन उसे गेंदबाजी विभाग में काम करने की जरूरत है। दूसरी ओर, वेस्टइंडीज को बल्लेबाजी में अपना नजरिया बदलने की जरूरत है। 50 ओवर के प्रारूप में खेलने के बावजूद उसके अधिकार खिलाड़ी टी-20 मोड में ही नजर आ रहे हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern