नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीकी टीम बेशक खुद को इस बार टी20 विश्व कप का दावेदार मानती हो लेकिन इन दिनों एक समस्या ऐसी है जिसने उनकी रातों की नींद उड़ा दी है। अगर ये दिक्कत दूर नहीं होती है तो दक्षिण अफ्रीका का विश्व कप अभियान बेहद कमजोर पड़ सकता है। क्या है ये समस्या, आइए जानते हैं।

दरअसल, दक्षिण अफ्रीकी टीम की सबसे बड़ी ताकत व गेंदबाजी लाइन अप में उनका सबसे बड़ा 'ट्रंप कार्ड' डेल स्टेन अपनी फिटनेस से जूझते नजर आ रहे हैं। बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच के दौरान वो मात्र 2.2 ओवर फेंकने के बाद हैमस्ट्रिंग इंजरी से जूझते नजर आए और मैदान से बाहर चले गए। इस चिंता को दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड यानी क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) ने भी अपने ट्विटर अकाउंट पर बयां किया है। डेल स्टेन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस महीने की शुरुआत में न्यूलैंड्स में हुए तीसरे टेस्ट मैच के बाद अब मैदान पर उतरे थे। आपको बता दें कि उस टेस्ट मैच की पहली पारी में भी उनको मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या से जूझते देखा गया था जिसके बाद वो 10.1 ओवर गेंदबाजी करके बाहर चले गए थे। फिर दूसरी पारी में ही वो मैदान पर लौट सके थे जहां उन्होंने मात्र 3 ही ओवर किए। उसके बाद उनकी समस्या को देखते हुए उनको तीन मैचों की टी20 सीरीज से आराम दे दिया गया था ताकि वो विश्व कप टी20 के लिए फिट हो जाएं लेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा है।

टी20 विश्व कप की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

इसके अलावा इन दिनों दक्षिण अफ्रीकी टीम अपने एक अन्य मुख्य गेंदबाज मोर्ने मोर्कल की कंधे की चोट और कप्तान फैफ डु प्लेसिस की हैमस्ट्रिंग इंजरी को लेकर भी परेशान है। डु प्लेसिस तो बांग्लादेश के खिलाफ हुए अभ्यास मैच में खेले तक नहीं। दक्षिण अफ्रीकी टीम टी20 विश्व कप के मुख्य ड्रॉ में अपना पहला मैच 22 मार्च को श्रीलंका के खिलाफ खेलेगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप