जोहानिसबर्ग, पीटीआइ। दक्षिण अफ्रीका को वनडे सीरीज में 5-1 से हराकर इतिहास रचने वाली भारतीय टीम रविवार से शुरू होने वाली तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज में भी हार से आहत अपने प्रतिद्वंद्वी पर नकेल कसकर अपना विजय अभियान जारी रखने के लिए उतरेगी। इस सीरीज में एक साल बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी कर रहे सुरेश रैना पर सभी की निगाह टिकी रहेंगी।

स्पेशलिस्ट स्पिनर का कहर : टेस्ट सीरीज में हार अब बीती बात लगती है। भारत टी-20 सीरीज में जीत के दावेदार के तौर पर शुरुआत करेगा। युजवेंद्रा सिंह चहल और कुलदीप यादव की स्पिन जोड़ी फिर से दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों की परीक्षा लेने के लिए तैयार है। इस सीरीज के लिए रैना, केएल राहुल और जयदेव उनादकट को भी टीम से जोड़ा गया है। इन तीनों ने शनिवार को सेंचुरियन में छठे वनडे से पहले नेट्स पर दो घंटे तक अभ्यास किया। वांडरर्स में भी रविवार को वैकल्पिक अभ्यास सत्र आयोजित किया गया। श्रीलंका के खिलाफ आखिरी टी-20 सीरीज में कोहली और भुवनेश्वर कुमार को विश्राम दिया गया था। उनकी अनुपस्थिति में श्रेयस अय्यर, मुहम्मद सिराज और वाशिंगटन सुंदर को अंतररष्ट्रीय स्तर पर खेलने का मौका मिला था लेकिन इन तीनों में से केवल अय्यर ही वर्तमान टीम का हिस्सा हैं।

रैना को मिल सकता है मौका : हालांकि अय्यर की जगह रैना को अंतिम एकादश में रखा जा सकता है जिन्हें इस प्रारूप में उपयोगी ऑलराउंडर माना जाता है। भारतीय दृष्टिकोण से रैना की वापसी सबसे अधिक महत्वपूर्ण पहलू है। उन्होंने 2015 के बाद वनडे मैच नहीं खेले हैं और वह आखिरी बार एक साल पहले इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में खेले थे। रैना ने तब तीन मैचों में एक अर्धशतक की मदद से 104 रन बनाए थे। रैना को इसके बाद गुजरात लायंस की तरफ से आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद टीम में नहीं चुना गया। बाद में पता चला कि वह अनिवार्य यो-यो टेस्ट पास नहीं कर पाए थे, इसलिए उन्हें टीम में नहीं चुना गया था। हालांकि उन्होंने दैनिक जागरण से कहा था कि पहले यो-यो टेस्ट की तैयारी के लिए उन्हें ज्यादा समय नहीं मिला था। दोबारा जब मौका मिला तो उन्होंने इसे पास कर लिया। रैना ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उत्तर प्रदेश की तरफ से नौ मैचों में एक शतक और दो अर्धशतक की मदद से 314 रन बनाए। रैना के अंतिम एकादश में जगह बनाने की पूरी संभावना है लेकिन उनके प्रदर्शन पर करीबी निगाह रहेगी क्योंकि भारत को मार्च में श्रीलंका में भी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज खेलनी है। रैना अच्छा प्रदर्शन करके अगले साल होने वाले विश्व कप के लिए वनडे टीम में वापसी का रास्ता भी साफ कर सकते हैं क्योंकि भारतीय टीम प्रबंधन अब भी एक आलराउंड विकल्प की तलाश में है जो मध्यक्रम विशेषकर नंबर चार बल्लेबाज के रूप में फिट बैठ सके।

बायें हाथ के तेज गेंदबाज पर नजर : जयदेव उनादकट पर भी टीम की नजर रहेगी। अक्टूबर में न्यूजीलैंड टीम के खिलाफ सीरीज से लेकर अब तक भारत ने छह टी-20 मैचों में से चार मैच में बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज को रखा है। आशीष नेहरा के संन्यास लेने के बाद और भुवनेश्वर को श्रीलंका के खिलाफ विश्राम देने के बाद उनादकट को मौका मिला। आइपीएल नीलामी में 11.5 करोड़ रुपये के साथ सबसे अधिक कीमत पर बिकने वाले भारतीय खिलाड़ी बने उनादकट इस प्रारूप में भारत के ट्रंप कार्ड हो सकते हैं। उनादकट, जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर तीनों चयन के लिए उपलब्ध हैं। छठे वनडे में चार विकेट लेने वाले शार्दुल ठाकुर को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। हार्दिक पंड्या और कलाई के दोनों स्पिनरों का अंतिम एकादश में चयन तय है।

लोकेश राहुल पर संदेह : भारत के बल्लेबाजी लाइनअप की बात है तो राहुल के अंतिम एकादश में जगह बनाने पर संदेह है। रोहित शर्मा को बाहर नहीं बिठाया जा सकता और शिखर धवन ने वनडे सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है।

नए कप्तान के भरोसे मेजबान : मेजबान टीम को भारत के खिलाफ तीन सीरीज में तीन कप्तान बदलने पड़े हैं। टेस्ट में स्थायी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने कमान संभाली लेकिन वनडे सीरीज में उनके चोटिल होने के कारण एडन मार्करैम को कप्तानी सौंपी गई। मार्करैम टी-20 टीम का हिस्सा नहीं हैं और इस सीरीज में जेपी डुमिनी कप्तानी करेंगे। दक्षिण अफ्रीकी टीम में युवाओं की भरमार है। इसके अलावा एबी डिविलियर्स की बल्लेबाजी का मुजाहिरा देखने को मिल सकता है।

दोनों टीमें :

भारत-

विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, सुरेश रैना, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, एमएस धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, युजवेंद्रा सिंह चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शार्दुल ठाकुर में से।

दक्षिण अफ्रीका-

जेपी डुमिनी (कप्तान), फरहान बहरदीन, हार्डियन, जूनियर डाला, एबी डिविलियर्स, रीजा हेंड्रिक्स, क्रिस्टियन जोनेकर, हेनरिक क्लासेन, डेविड मिलर, क्रिस मौरिस, डेन पीटरसन, आरोन फांगिसो, एंडेल फेलुक्वायो, तबरेज शम्सी, जॉन-जॉन स्मिट्स।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप