पॉचेस्ट्रॉम, जेएनएन। दक्षिण अफ्रीका ने तेज गेंदबाज कागिसो रबादा (3/33) और स्पिनर केशव महाराज (4/25) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत मेहमान बांग्लादेश को पहले टेस्ट के अंतिम दिन 333 रन से मात दे दी। 

चौथी पारी में 424 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने एक घंटे से भी कम समय में अंतिम सात विकेट 41 रन के भीतर गंवा दिए और पूरी टीम केवल 90 रनों पर ढेर हो गई। 

इससे पहले, दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में डीन एल्गर के 199, हाशिम अमला के 137, एडेन मारक्रम के 97 रनों की मदद से तीन विकेट पर 496 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी। इसके जवाब में बांग्लादेश ने पहली पारी में मोमिुल हक के 77, महमूदुल्लाह के 66, मुशफिकर रहीम ने 44 और तमीम इकबाल के 39 रनों की मदद से 320 रन बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका की ओर से पहली पारी में केशव महाराज ने 3, मोर्ने मोर्केल और कागिसो रबादा ने 2-2 विकेट लिए थे। दक्षिण अफ्रीका ने इसके बाद दूसरी पारी में फाफ डु प्लेसिस के 81 और टेंबा बावुमा के 71 रनों की बदौलत छह विकेट पर 247 रन बनाकर पारी घोषित की। इससे बांग्लादेश को चौथी पारी में 424 रनों का लक्ष्य मिला।

बांग्लादेश के बल्लेबाज चौथी पारी में विकेट पर नहीं टिक सके और केवल तीन बल्लेबाज ही दहाई के अंक तक पहुंच सके। मेहमानों की ओर से इमारुल कायेस ने 32, मुशफिकुर रहीम ने 16 और मेहदी हसन मिराज ने 15 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका की ओर से केशव महाराज ने 4, कागिसो रबादा ने 3 और मोर्ने मोर्केल ने 2 विकेट लिए। हालांकि, दक्षिण अफ्रीका की जीत की खुशी तब फीकी पड़ गई जब तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल चोटिल हो गए। वह मांसपेशियों में खिंचाव के कारण छह सप्ताह के लिए टीम से बाहर हो सकते हैं।

आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के एक और तेज गेंदबाज डेल स्टेन पिछले छह महीने से ज्यादा समय से चोटिल होने के बाद टीम से बाहर हैं। स्टेन कंधे में चोट लगने की वजह से क्रिकेट से दूर हैं और उनकी वापसी की उम्मीद की जा रही थी तो मोर्केल टीम से बाहर हो गए हैं। स्टेन और मोर्केल की जोड़ी इस समय दुनिया के सबसे अच्छे तेज गेंदबाजों की जोड़ियों में गिनी जाती है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh