नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला पार्ल के बोलैंड पार्क में खेला गया। दक्षिण अफ्रीका ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है। कप्तान तेंबा बवूमा और वान डेर डुसेन के शतक के दम पर निर्धारित 50 ओवर में टीम ने 4 विकेट पर 296 रन का स्कोर खड़ा किया। भारतीय टीम 8 विकेट पर 265 रन ही बना पाई। 31 रन से यह मैच जीतकर साउथ अफ्रीका ने 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई। 129 रन की पारी खेलने वाले वान डेर डुसेन को प्लेयर आफ द मैच चुना गया।

धवन शतक के चूके, कोहली- शार्दुल का अर्धशतक 

साउथ अफ्रीका से मिले 297 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए केएल राहुल और शिखर धवन ने भारत के लिए तेज शुरुआत की। दोनों ने पहले 10 ओवर में भारत के स्कोर को 50 रन के पार पहुंचाया। कप्तान राहुल 12 रन बनाकर मारक्रम की गेंद पर क्विंटन डिकाक को कैच दे बैठे। धवन ने अपनी बल्लेबाजी जारी रखते हुए 51 गेंद पर 8 चौके की मदद से पचास रन पूरे किए। 79 रन की पारी खेल कर केशव महाराज की गेंद पर वह गेंद को कट करने की कोशिश में बोल्ड हो गए। 

कप्तानी से हटाए जाने के बाद पहली बार वनडे में खेलने उतरे विराट कोहली ने 60 गेंद पर 3 चौके की मदद से पचास रन पूरे किए। अर्धशतक बनाने के एक रन बाद ही कोहली तबरेज शम्सी की गेंद पर बवूमा को कैच दे बैठे। भारत को चौथा झटका श्रेयस अय्यर के रुप में लगा जब वह 17 रन बनाकर एगिदी की गेंद पर विकेट के पीछे डिकाक द्वारा कैच आउट हुए।

अय्यर के ठीक बाद रिषभ पंत को 16 रन पर क्विंटन डिकाक ने शानदार विकेटकीपिंग करते हुए फेहलुकवायो की गेंद पर वापस भेजा। पहला वनडे मैच खेलने उतरे वेंकटेश अय्यर महज 2 रन बनाकर बड़ा शाट लगाने की कोशिश में आउट हुए। इसके बाद अश्विन भी 7 रन के स्कोर पर फेहलुकवायों की गेंद पर बोल्ड हो गए। आखिरी में शार्दुल ने 43 गेंद पर 5 चौके और 1 छक्के की मदद से नाबाद 50 रन की पारी खेली। 

दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी, बबूमा-डुसेन का शतक

दक्षिण अफ्रीका की ओर से क्विंटन डी काक और जानेमन मलान ने पारी शुरुआत की। टीम को पहला झटका जसप्रीत बुमराह ने मलान को आउट करके दिया। वह 6 रन बनाकर आउट हुए। लंबे समय बाद वनडे में वापसी कर रहे आर अश्विन ने डि काक को 27 रन पर क्लीन बोर्ड कर वापस  भेजा। एडन मारक्रम को वेंकटेश अय्यर की शानदार थ्रो पर 4 रन के स्कोर पर रन आउट होकर वापस जाने पर मजबूर होना पड़ा।

कप्तान बबूमा ने पारी को संभालते हुए 76 गेंद पर 4 चौके जमाते हुए पचास रन पूरे किए। कप्तान के बाद डुरेन ने भी अपने पचास रन पूरे किए। 49 गेंद पर 4 चौके और एक छक्के की मदद से यह अर्धशतक पूरा किया। 133 गेंद पर 7 चौके की मदद से कप्तान बवूमा ने अपना जुझारू शतक पूरा किया। 83 गेंद पर 8 चौके और 2 छक्के की मदद से डुसेन ने भी अपना शतक पूरा किया। बमूमा 143 गेंद पर 110 रन की पारी खेलकर जसप्रीत बुमराह की गेंद पर कप्तान केएल राहुल को कैच दे बैठे।

भारत की तरफ से बुमराह ने दो जबकि अश्विन ने एक सफलता हासिल की।

दोनों टीमों में एक-एक खिलाड़ी का डेब्यू

टीम इंडिया के लिए वेंकटेश अय्यर डेब्यू किया। वहीं मार्को जेनसेन अफ्रीका के लिए डेब्यू किया। टीम इंडिया की बात करें तो केएल राहुल के साथ शिखर धवन ओपनिंग करेंगे। टीम में तीन तेज गेंदबाज और दो स्पिनर हैं। कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली का बतौर बल्लेबाज यह पहला मैच है। दौरे पर भेजी गई टीम में रितुराज गायकवाड़, वेंकटेश अय्यर और इशान किशन जैसे कई नए खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। इसके अलावा रविचंद्रन अश्विन की लंबे समय के बाद वनडे टीम में वापसी हुई है। शिखर धवन भी चुने गए हैं।

लय जारी रखना चहेगी मेजबान टीम

इस बीच टेस्ट सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज करने के बाद दक्षिण अफ्रीकी टीम मनोबल ऊंचा होगा। भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में टीम यह लय को जारी रखना चाहेगी। हालांकि टेंबा बावुमा की अगुवाई वाली टीम केएल राहुल की टीम को कम नहीं आंक रही होगी। इसका सबसे बड़ा कारण भारत का पिछला अफ्रीका दौरा है। तब मेहमान टीम ने 5-1 से सीरीज पर कब्जा जमाया था।

टीम इंडिया (प्लेइंग इलेवन):

केएल राहुल (कप्तान), शिखर धवन, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत (डब्ल्यू), वेंकटेश अय्यर, शार्दुल ठाकुर, रविचंद्रन अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्रा चहल

दक्षिण अफ्रीका (प्लेइंग इलेवन):

क्विंटन डी काक (डब्ल्यू), जानेमन मलान, एडेन मारक्रम, रस्सी वान डेर डूसेन, तेंबा बावुमा (कप्तान), डेविड मिलर, एंडिले फेहलुकवेओ, मार्को जेनसेन, केशव महाराज, तबरेज़ शम्सी, लुंगी नगीदी

हेड टू हेड

अगर हेड टू हेड की बात करें तो मेजबान टीम का पलड़ा भारी दिखाई देते हैं। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच अबतक 84 वनडे मैच खेले गए हैं। अफ्रीका ने 46 और भारत में 35 मैचों में जीत दर्ज की है। तीन मैच बेनतीजा रहे हैं। पिछले 34 मैचों में अफ्रीका ने 22 में जीत दर्ज की है और 10 में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

Edited By: Tanisk