नई दिल्ली, जेएनएन। बांग्लादेश में दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने आई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने दूसरा टेस्ट मैच अपने नाम कर बांग्लादेश को इतिहास बनाने से रोक दिया। बांग्लादेश इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच जीतकर सीरीज में 1-0 से बढ़त बना चुकी थी। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया ने दूसरा टेस्ट मैच 7 विकेट से जीतकर सीरीज 1-1 से बराबर करने में सफलता पाई। 

बांग्लादेश ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को किसी टेस्ट मैच में हराया था। अगर बांग्लादेश दूसरा मैच जीत जाता या ड्रॉ भी करा लेता तो वह एक और इतिहास बना देता। हालांकि, दूसरा टेस्ट मैच चौथे दिन लंच के थोड़ी देर बाद तक ही चल सका और इसे ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में लड़खड़ाने के बावजूद हासिल कर लिया। 

मैच में बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 305 रनों का स्कोर खड़ा किया। उसके लिए मुशफिकुर रहीम ने 68, सब्बीर रहमान ने 66, नासिर हुसैन ने 45 और सौम्य सरकार ने 33 रनों का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया की ओर से नाथन लियोन ने 7 और एश्टन एगर ने 2 विकेट लिए। 

जवाब में खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने डेविड वॉर्नर के 123, स्टीव स्मिथ के 58, पीटर हैंड्सकॉम्ब के 82 और ग्लैन मैक्सवेल के 38 रनों की बदौलत 377 रन बनाए और पहली पारी के आधार पर 72 रनों की अहम बढ़त हासिल की। बांग्लादेश की ओर से मुस्तफिजुर रहमान ने 4, मेहदी हसन मिराज ने 3, शाकिब अल हसन और तैजुल इस्लाम ने 1-1 विकेट लिया। 

बांग्लादेश ने दूसरी पारी में मुशफिकुर रहीम के 31, सब्बीर रहमान के 24, मोमिनुल हक के 29 रनों की मदद से केवल 157 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में नाथन लियोन ने 6, पैट कमिंस और स्टीव ओ कीफ ने 2-2 विकेट लिए। 

ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए केवल 86 रनों की जरूरत थी। इस लक्ष्य को ऑस्ट्रेलिया ने 3 विकेट के नुकसान पर 87 रन बनाकर हासिल कर लिया।  नाथन लियोन को मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड मिला। बांग्लादेश को पिछले मैच में जीत दिलाने वाले शाकिब अल हसन इस मैच में अपना जादू नहीं दिखा सके। 

 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस