वड़ोदरा, प्रेट्र। पूजा वस्त्राकर के नौवें नंबर पर उतरकर अर्धशतक लगाने के बावजूद भारतीय महिला क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पराजय का सामना करना पड़ा। पूजा नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए शतक लगाने वाली दुनिया की पहली बल्लेबाज बनीं।

उन्होंने 56 गेंदों पर सात चौके और एक छक्के की मदद से 51 रन बनाए। हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने स्पिनरों की शानदार गेंदबाजी के बाद सलामी बल्लेबाज निकोल बोल्टन की 100 रन की पारी के दम पर आइसीसी महिला चैंपियनशिप के तहत तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मैच में भारत को आठ विकेट से शिकस्त दी।

बोल्टन का चौथा शतक

भारतीय टीम पहले खेलते हुए 50 ओवर में 200 रन बनाकर ढेर हो गई। भारत को इस स्कोर पर पहुंचाने में सुषमा वर्मा (41) और पूजा वस्त्राकर (51) की अहम भूमिका रही, जिन्होंने आठवें विकेट की साझेदारी में 76 रन जोड़े। ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर जोनासेन ने 10 ओवर में 30 रन देकर चार विकेट झटके। लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम के लिए बोल्टन ने वनडे करियर का चौथा शतक जड़ा, जिसकी बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने 201 रन का लक्ष्य 32.1 ओवर में हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया को विश्व कप सेमीफाइनल में भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। दोनों टीमों के बीच दूसरा वनडे मैच इसी मैदान पर गुरुवार को खेला जाएगा। 

नौवें नंबर का कमाल

भारत की पूजा वस्त्राकर ने इस मैच में एक विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया। उन्होंने नौवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतकीय पारी खेली। महिला वनडे क्रिकेट में वह नौवें नंबर पर अर्धशतक जडऩे वाली दुनिया की पहली बल्लेबाज बनीं। उनसे पहले नौवें नंबर पर सर्वाधिक निजी स्कोर का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड की लूसी डोलन के नाम था, जिन्होंने 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ 48 रन बनाए थे। पूजा के वनडे करियर का यह पहला अर्धशतक है। पिछले महिला दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पोचेफस्ट्रूम में वनडे पदार्पण करने वाली पूजा का यह सिर्फ दूसरा वनडे मैच था और इससे पहले खेले एकमात्र मैच में उन्होंने सिर्फ एक रन बनाया था। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

By Sanjay Savern