मुंबई। कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा [नाबाद 79] की आतिशी पारी के बाद अपने गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर मुंबई इंडियंस ने क्रिकेट के हर खेल में पंजाब किंग्स इलेवन को चित करते हुए इंडियन प्रीमियर लीग [आईपीएल] के छठे सत्र के 41वें मुकाबले को चार रन से जीत लिया। रिकी पोंटिंग की जगह मुंबई की कमान संभालने वाले रोहित ने अपने नेतृत्व में टीम को लगातार तीसरी जीत दिलाई है।

वानखेडे स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने 20 ओवर में तीन विकेट पर 174 रन बनाए। उसकी ओर से कप्तान रोहित ने महज 39 गेंदों में 79 रनों [6 चौका व 6 छक्का] की नाबाद पारी खेली। जवाब में पंजाब की पूरी टीम 20 ओवर में 170 रन बनाकर आउट हो गई। पराजित टीम की ओर से डेविड मिलर ने संघर्ष करते हुए 34 गेंदों में एक चौका व पांच करारे छक्के के साथ 56 रनों की सबसे बड़ी पारी खेली। गेंदबाजी में पंजाब की ओर से प्रवीण कुमार, मनप्रीत गोनी और पीयूष चावला को एक-एक सफलता मिली। जबकि मुंबई के लिए हरभजन सिंह ने 14 रन देकर तीन विकेट निकाले जबकि मिशेल जानसन, प्रज्ञान ओझा व धवल कुलकर्णी को दो-दो विकेट मिले।

नियमित कप्तान एडम गिलक्रिस्ट की जगह पंजाब की कमान आज डेविड हसी ने संभाली। जबकि रोहित ने लगातार तीसरे मैच में मुंबई का नेतृत्व किया और लगातार तीसरी जीत दिलाई। रोहित रिकी पोंटिंग की जगह फिलहाल मुंबई टीम की कमान संभाले हुए हैं। मुंबई ने नौ मैचों में छह जीत व तीन हार के साथ 12 अंक बटोर लिए हैं और अंक तालिका में चौथे स्थान पर बनी हुई है। वहीं पंजाब ने नौ मैचों में चार जीत व पांच हार का सामना किया है और आठ अंक के साथ छठे स्थान पर हैं।

चुनौतीपूर्ण लक्ष्य के जवाब में नियमित कप्तान व ओपनर एडम गिलक्रिस्ट की अनुपस्थिति में पंजाब की पारी की शुरुआत मंदीप सिंह और शॉन मार्श ने की। लेकिन दूसरे ओवर की अंतिम गेंद पर लसिथ मलिंगा ने मंदीप [9] को बोल्ड कर चलता कर दिया। शुरुआती झटके से पंजाब अभी उबर ही रहा था कि उसे एक और झटका अगले ओवर में लगा जब मनन वोहरा [1] को मिशेल जानसन ने कीरोन पोलार्ड के हाथों कैच आउट करा दिया। कार्यवाहक कप्तान डेविड हसी ने छठे ओवर में धवल कुलकर्णी पर एक छक्का व दो चौका ठोककर कुल 17 रन बटोर कर रन रेट को सुधारने की कोशिश की। लेकिन अगले ओवर की पहली गेंद पर प्रज्ञान ओझा ने शान मार्श [10] को सीमा रेखा के पास पोलार्ड के बेहतरीन प्रयास के दम पर कैच आउट करा दिया। दूसरे छोर पर आतिशी बल्लेबाजी कर रहे हसी भी ओझा की अगले ओवर में जानसन को कैच थमा बैठे। हसी ने 18 गेंदों में 34 रन [5 चौका व 1 छक्का] बनाए। बड़े लक्ष्य का पीछा करने का दबाव पंजाब के बल्लेबाज सह नहीं पाए और 10वें ओवर में गुरकीरत सिंह [2] ने हरभजन सिंह की गेंद पर स्मिथ के हाथों कैच आउट हुए। पंजाब ने 10 ओवर में पांच विकेट पर 80 रन बनाए थे। डेविड मिलर ने अजहर महमूद के साथ लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करने का प्रयास किया पर विकेटों के पतन ने उनके प्रयास पर पानी फेर दिया। हालांकि एक छोर पर टिके रहकर मिलर ने कुछ करारे शॉट भी लगाए। हरभजन ने 14वें ओवर की दूसरी गेंद पर अजहर को कैच आउट कराया। इसी ओवर की अंतिम गेंद पर हरभजन ने नए बल्लेबाज मनप्रीत गोनी को खाता खोले बगैर विकेटकीपर कार्तिक के हाथों कैच आउट करा दिया। धवल कुलकर्णी ने 17वें ओवर में पीयूष चावला [12 रन, 10 गेंद] को अंबाती रायुडू के हाथों शानदार कैच आउट कराया। दूसरे छोर पर टिके मिलर ने 32 गेंदों में अपना पचासा पूरा किया। हालांकि 18वें ओवर में जानसन की गेंद पर छक्का जमाने के बाद मिलर कवर में तेंदुलकर को कैच थमा बैठे। मिलर के आउट होने के बाद पंजाब की जीत की उम्मीद भी खत्म हो गई। हालांकि प्रवीण कुमार ने 14 गेंदों में 24 रन बनाकर मैच को अंतिम गेंद पर ले गए थे पर वह अंतिम गेंद पर कैच आउट हो गए।

इससे पूर्व टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला मुंबई के लिए सही साबित नहीं हुआ। तीसरे ओवर की चौथी गेंद पर प्रवीण कुमार ने सचिन तेंदुलकर [9] को बोल्ड कर चलता कर दिया। शुरुआती झटके के बाद ड्वेन स्मिथ और दिनेश कार्तिक ने मुुंबई की पारी को संवारने की कोशिश की और स्कोर 43 रनों तक ले गए। लेकिन इस स्कोर पर ही गोनी ने कार्तिक को बोल्ड कर चलता कर दिया। कार्तिक ने 19 गेंदों में दो चौके व एक छक्के की मदद से 25 रनों की छोटी मगर तेज पारी खेली। स्मिथ ने कार्यवाहक कप्तान रोहित के साथ आगे खेलते हुए स्कोर को 86 रनों तक ले गए। पीयूष चावला ने स्मिथ [33 रन, 32 गेंद] को 13वें ओवर में डेविड मिलर के हाथों कैच आउट कराया। दूसरी ओर, रोहित ने एक छोर संभालते हुए टूर्नामेंट में अपनी एक और लाजवाब पारी खेली। उन्होंने टूर्नामेंट में अपना चौथा पचासा महज 28 गेंदों में पूरा किया। कीरोन पोलार्ड [नाबाद 20 रन, 21 गेंद] के साथ उन्होंने चौथे विकेट के लिए अविजित 90 रनों की साझेदारी भी की। हालांकि पोलार्ड गोनी के अंतिम ओवर [18वां ओवर] की चौथी गेंद पर बोल्ड हो गए थे लेकिन यह गेंद नो बॉल हो गई और इस तरह उन्हें शानदार जीवनदान मिल गया। रोहित ने 20वें ओवर में विपक्षी कप्तान डेविड हसी की गेंद पर तीन छक्का व दो चौका लगाते हुए कुल 27 रन बटोर लिए। मुंबई ने अंतिम पांच ओवर में 72 रन ठोके।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर