नई दिल्ली। आईपीएल 6 स्पॉट फिक्सिंग मामले में एस श्रीसंत को उनके दोस्त और रिश्तेदार जीजू जनार्दन ने फंसाया है। ऐसा श्रीसंत ने खुद दिल्ली पुलिस को बताया है। सूत्रों के अनुसार श्रीसंत ने स्पॉट फिक्सिंग का आरोप स्वीकार कर लिया है और इसके पीछे जीजू जनार्दन को जिम्मेदार ठहराया है।

कौन है जीजू जनार्दन

जीजू जनार्दन ने खिलाड़ियों और सटोरियों के बीच मुख्य रूप से बिचौलिए की भूमिका निभाई। जीजू ने ही पहले श्रीसंत की सटोरिए से बात कराई थी, जिसके बाद उन्हें 40 लाख रुपये में फिक्स किया गया था। जीजू के कहने पर ही श्रीसंत ने सौदा तय किया था।

जीजू और श्रीसंत का रिश्ता

जीजू और श्रीसंत बचपन से एक-दूसरे को जानते हैं। श्रीसंत ने जिस एमआरएफ एकेडमी में क्रिकेट के गुर सीखे, उसी एकेडमी में जीजू भी क्रिकेट सीखे रहे थे। दोनों एक-दूसरे को पहले से ही जानते थे, लेकिन एकेडमी में उनकी दोस्ती परवान चढ़ी।

पिता ने क्या कहा

इस मामले पर श्रीसंत के पिता ने जीजू पर निशाना साधते हुए कहा कि जीजू पहले बहुत गरीब घर का था। उन्होंने श्रीसंत के कहने पर उसके घर का खर्च उठाया। यहां तक कि उसे पढ़ाया-लिखाया, काबिल बनाया, लेकिन वह रास्त भटक गया। श्रीसंत के पिता ने यह भी कहा था कि जीजू गलत संगति में फंस गया था। गलत लोगों से उसके संबंध जुड़ चुके थे। उसके कहने पर ही उनके बेटे ने कुछ किया होगा।

मां का है क्या कहना

श्रीसंत की मां ने पूरे मामले में अपने बेटे श्रीसंत को बेकसूर कहा है। उनका कहना है कि उनके बेटे को फंसाया जा रहा है। उनका बेटा ऐसा नहीं कर सकता।

वकील का है क्या कहना

श्रीसंत के वकील ने भी उन्हें पूरी तरह निर्दोष बताया है। श्रीसंत के वकील ने कहा कि पुलिस ने सिर्फ बुकी की रिकॉर्डिग की बात कही है, लेकिन बातचीत किसी को सुनाई नहीं। वे अच्छी तरह जानते हैं कि श्रीसंत पूरी तरह बेकसूर हैं। साथ ही उन्होंने लोगों और मीडिया से श्रीसंत पर भरोसा रखने की बात कही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस