मोहाली। आईपीएल-5 में कोलकाता नाइटराइडर्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच बुधवार को हुए मैच के दौरान उस समय अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब अंपायर के एक फैसले ने प्रीति जिंटा का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंचा दिया।

स्ट्रेटजिक टाइम आउट के दौरान प्रीति दौड़कर मैदान में पहुंच गई। वह अंपायर से यह जानना चाह रही थीं कि बल्लेबाज शॉन मार्श को क्यों आउट दिया गया। किंग्स इलेवन के कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने उन्हें किसी तरह समझा कर वापस पविलियन भेजा। प्रीति जिंटा की किंग्स इलेवन को तीसरी हार झेलनी पड़ी।

इससे पहले मुंबई इंडियंस के गेंदबाज मुनफ पटेल और कप्तान हरभजन सिंह मैदान पर अंपायर से उलझ गए। वहीं डेक्कन चार्जर्स के लेग स्पिनर अमित मिश्रा को मेजबान राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मंगलवार को हुए मुकाबले के दौरान अपशब्द कहने पर चेतावनी दी गई है।

ताजा विवाद बुधवार रात कोलकाता नाइटराइडर्स और किंग्स इलेवन पंजाब मैच का है, जहां पहले बल्लेबाजी कर रही किंग्स इलेवन की पारी के 14वें ओवर में 33 रनों पर बैटिंग कर रहे मार्श को विवादित तरीके से आउट करार दिया गया। ब्रेट ली की फेंकी गई बाहर जाती एक गेंद मार्श के बल्ले का किनारा लेती हुई विकेटकीपर मानविंदर बिस्ला के पास गई जिसे उन्होंने कैच तो किया, लेकिन दिखने मे ऐसा लग रहा था जैसे कैच होने के पहले गेंद जमीन को छू गई है।

इसके बाद अंपायर ने मार्श को आउट देने के पहले बिस्ला से पूछा। मार्श ने भी बिस्ला से पूछा तो उसने हां कर दी। बिस्ला की हां पर यकीन करते हुए मार्श मैदान से बाहर चले गए, लेकिन रिप्ले देखने से ऐसा लग रहा था कि गेंद बाउंस कर गई है। अंपायर के इस फैसले से प्रीति जिंटा भी संतुष्ट नजर नहीं आईं। स्ट्रेटजिक टाइम आउट के दौरान वह मैदान पर उतर आईं और अंपायर से बहस करने लगीं। उस वक्त गिलक्रिस्ट के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हो गया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर