नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। आइपीएल के 13वें मैच में दिनेश कार्तिक की कोलकाता नाइट राइडर्स ने गौतम गंभीर की दिल्ली डेयरडेविल्स को 71 रन से मात देकर मौजूदा टूर्नामेंट में अपनी दूसरी जीत दर्ज़ की। ईडन में आठ मैचों में दिल्ली की यह सातवीं हार है। इस मैच के दौरान दिल्ली डेयर डेविल्स के तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट ने एक ऐसा काम कर दिया, जो मौजूदा आइपीएल में कोई भी खिलाड़ी नहीं कर सका था।

ट्रेंट बोल्ट ने कोलकाता को चौंकाया 

इस मुकाबले में दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया और उन्होंने पहला ओवर अपनी टीम के तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट को दिया। बोल्ट ने अपने कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए मौजूदा आइपीएल का पहला मेडन ओवर फेंका। इस आइपीएल में कोई भी खिलाड़ी अभी तक मेडन ओवर फेंकने में कामयाब नहीं हुआ था। बोल्ट ने ये मेडन ओवर धुआंधार खिलाड़ी क्रिस लिन के सामने फेंका। इस सीजन में अभी तक सबसे ज्‍यादा डॉट गेंदें फेंकने का रिकॉर्ड ट्रेंट बोल्‍ट के नाम है जिन्‍होंने अब तक कुल 38 डॉट गेंदें फेंकी हैं। कोलकाता की टीम ने ऐसा सोचा भी नहीं कि उनकी पारी की शुरूआत एक मेडन ओवर के साथ होगी और फिर भी वो अपनी पारी के अंत में 200 रन का स्कोर खड़ा कर देंगे। 

कोलकाता ने इस तरह बनाए 200 रन

लगातार तीसरी बार टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी कोलकाता की शुरुआत एक बार फिर खराब रही। तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने सलामी बल्लेबाज क्रिस लिन (31) को पहला ही ओवर मेडन डालकर दबाव बना दिया था। बतौर सलामी बल्लेबाज वापसी करने वाले सुनील नारायण (01) एक बार फिर फ्लॉप रहे। उथप्पा (35) ने लिन के साथ दूसरे विकेट के लिए 55 रन जोड़े। मध्य क्रम के बल्लेबाज नीतिश राणा जरूरत के समय टीम के खेवनहार बने। उन्होंने 35 गेंदों पर 59 रनों की उपयोगी पारी खेली, जिसमें पांच चौके और चार छक्के शामिल रहे। उन्होंने आंद्रे रसेल के साथ पांचवें विकेट के लिए 22 गेंदों पर 61 रनों की बेहद अहम साझेदारी भी निभाई।कोलकाता के मध्य क्रम की रीढ़ आंद्रे रसेल ने एक बार फिर बल्लेबाजी का जौहर दिखाते हुए 12 गेंदों पर 41 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली, जिसमें छह छक्के शामिल रहे। कोलकाता आइपीएल-11 में दूसरी बार 200 के आंकड़े को छूने में सफल रही।

 

IPL की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

दिल्ली नहीं दिखा सकी दम

201 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की पूरी टीम 14.2 ओवर में 129 रनों पर सिमट गई। ईडन में अपना 50वां आइपीएल मैच खेलने उतरे कोलकाता के पूर्व और दिल्ली के मौजूदा कप्तान गौतम गंभीर (08) इसे यादगार नहीं बना सके। दिल्ली के तीन विकेट महज 24 रन पर गिर चुके थे। वहां से ग्लेन मैक्सवेल (47) और रिषभ पंत (43) ने पारी को संभालने की कोशिश की और चौथे विकेट के लिए 62 रन जोड़े। जब तक ये दोनों क्रीज पर थे, दिल्ली की जीत की आस बनी रही, लेकिन उनके पवेलियन लौटते ही मैच औपचारिकता नजर आने लगा। पिछले मैच के नायक जेसन (01) कोई कमाल नहीं कर पाए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pradeep Sehgal