नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। आइपीएल के 25वें मुकाबले में हैदराबाद की टीम ने पंजाब को 13 रन से मात दे दी। इस जीत के बाद हैदराबाद की टीम अंकतालिका में नंबर दो पर आ गई है। मुकाबले में टॉस जीतकर पंजाब ने पहले गेंदबाज़ी का फैसला किया और किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज अंकित राजपूत ने 14 रन पर पांच विकेट लेते हुए हैदराबाद की टीम को 132 रनों पर ऑल आउट कर दिया। हालांकि हैदराबाद ने पंजाब को सिर्फ 119 रनों पर ऑलआउट कर इस मुकाबले में बाज़ी मार ली। एक समय पर पंजाब की टीम काफी अच्छी स्थिति में थी और ऐसा लग रहा था कि वो इस मुकाबले को जीत लेगी, लेकिन एक गेंद ने पंजाब की टीम की किस्मत पलट दी।

इस गेंद ने पलटी बाज़ी

133 रन का पीछा कर रही पंजाब की टीम ने 7 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए 53 रन बना लिए थे। क्रिस गेल 22 और लोकेश राहुल 31 रन बनाकर खेल रहे थे। केन विलियमसन को मालूम था कि अगर विकेट नहीं मिली तो ये दोनों बल्लेबाज़ मैच को जल्द ही खत्म कर देंगे। विलियमसन ने भी अपना तुरुप का इक्का निकाला और अगले ओवर के लिए राशिद खान को गेंद थमा दी। राशिद खान ने भी अपने कप्तान को निराश नहीं किया और उन्होंने 8वें ओवर की पांचवी गेंद (7.5) पर राहुल को बोल्ड कर हैदराबाद को पहली सफलती दिला दी। इसके बाद तो पंजाब की टीम ताश के पत्तों की तरह ढहती चली गई। एक के बाद एक बल्लेबाज़ आता और अपना विकेट गंवा कर चला जाता।

सिर्फ 64 रन बनाने में गंवा दिए 10 विकेट

पंजाब की टीम ने अपना पहला विकेट 55 रन के स्कोर पर गंवाया था और इस टीम का आखिरी विकेट 119 रन पर गिरा। इसका मतलब साफ है कि दिग्गज बल्लेबाज़ों से भररी पंजाब की टीम ने 64 रन बनाने में ही अपने दस के दस बल्लेबाज़ों के विकेट गंवाए। राहुल का विकेट गिरने के बाद हैदराबाद के लिए एक के बाद एक मौका बनता गया और उन्होंने मौजूद आइपीएल में दूसरी बार अपनी विरोधी टीम को ऑल आउट कर दिया। इससे पहले सनराइजर्स हैदराबाद ने मुंबई इंडियंस को भी ऑल आउट किया था।

आइपीएल में पहले भी हुआ है ऐसा

इस टूर्नामेंट में ये कोई पहला मौका नहीं जब किसी टीम ने 50 से ज़्यादा रन की ओपनिंग साझेदारी की हो और उसके बावजूद उनकी टीम ऑल आउट हो गई हो। आइपीेएल के इतिहास में ये छठा ऐसा मौका रहा जब पचास से ज़्यादा रन की ओपनिंग साझेदारी के बाद पूरी टीम ही सिमट गई। 

IPL की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

आइपीएल का पूरा शेड्यूल देखने के लिए यहां क्लिक करें

इस तरह सिमटी पंजाब की पारी

दोनों सलामी बल्लेबाजों ने पंजाब के लिए 55 रन जोड़े, लेकिन आठवें ओवर में राहुल (32) की गेंद पर बोल्ड हो गए। गेल (23) भी तेज गेंदबाज बासिल थंपी की गेंद पर उन्हीं को कैच थमा बैठे। इन दोनों बल्लेबाजों के आउट होते ही पंजाब का मध्यक्रम पूरी तरह से चरमरा गया। मयंक अग्रवाल (12) की खराब फॉर्म जारी रही और वह शाकिब अल हसन की गेंद पर मनीष पांडे को कैच थमाकर चलते बने। करुण नायर (13) को राशिद ने एलबीडब्ल्यू किया। एरोन फिंच (08) भी शाकिब की गेंद पर पांडे को कैच थमा आउट हुए। सिक्सर किंग युवराज सिंह की जगह टीम में शामिल किए गए मनोज तिवारी (01) युवी की भरपाई नहीं कर सके। वह संदीप शर्मा की गेंद पर विलियमसन को कैच थमा आउट हुए। इसके बाद कप्तान आर अश्विन (04) का विकेट ने लिया। निचले क्रम के बल्लेबाजों के जल्द आउट होने के साथ ही पंजाब की पारी 119 रन पर सिमट गई और वह 13 रनों से यह मुकाबला हार गई।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप