नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारत के पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने कहा है कि उनकी टी20 टीम में आर अश्विन जैसा गेंदबाज कभी नहीं होगा। पूर्व बल्लेबाज ने यह भी कहा कि वह सुनील नरेन या वरुण चक्रवर्ती जैसे विकेट लेने वाले गेंदबाजों को अपनी टीम में रखना पसंद करेंगे। मांजरेकर की टिप्पणी तब आई जब अश्विन इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के दूसरे क्वालीफायर में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ आखिरी ओवर में सात रन का बचाव करने में विफल रहे।

अश्विन ने लगातार दो गेंदों पर शाकिब अल हसन और नरेन का विकेट चटकाकर असाधारण शुरुआत की, लेकिन उन्होंने राहुल त्रिपाठी को आफ स्टंप के बाहर हाफ-ट्रैकर वाइड दिया, जिसे बल्लेबाज ने लांग आफ के ऊपर से छक्के के लिए भेज दिया और केकेआर को तीन विकेट से जीत दिलाई। अश्विन काफी सहज लग रहे थे, लेकिन आखिरी ओवर की एक गेंद टीम पर भारी पड़ गई और टीम फाइनल की रेस से बाहर हो गई। इसी को लेकर गावस्कर ने अश्विन पर निशाना साधा है।

संजय मांजरेकर ने क्रिकइंफो से बात करते हुए कहा, "हमने अश्विन के बारे में बात करने में काफी समय खर्च किया है। T20 क्रिकेट में अश्विन एक गेंदबाज के रूप में किसी भी टीम के लिए बड़ी ताकत नहीं हैं। अगर आप अश्विन को बदलना चाहते हैं तो मुझे नहीं लगता कि ऐसा होने वाला है, क्योंकि वह पिछले पांच-सात सालों से ऐसे ही हैं। मैं समझ सकता हूं कि टेस्ट मैचों में हम अश्विन के साथ रहते हैं, जहां वह शानदार हैं। उनका इंग्लैंड में एक भी टेस्ट मैच नहीं खेलना एक उपहास था, लेकिन जब बात आइपीएल और टी20 क्रिकेट की हो तो अश्विन पर इतना समय बिताना सही नहीं है।"

उन्होंने आगे कहा, "मुझे लगता है कि उसने पिछले पांच वर्षों में हमें दिखाया है कि उसने बिल्कुल वैसी ही गेंदबाजी की है और मेरी टीम में अश्विन जैसा कोई नहीं होगा, क्योंकि अगर मुझे टर्निंग पिच मिलती है तो मैं वरुण चक्रवर्ती या सुनील नरेन या (युजवेंद्रा) चहल जैसे लोगों से उम्मीद करूंगा। वे अपना काम कैसे करते हैं, वे आपको विकेट दिलाते हैं।" संजय मांजरेकर ने यह कहते हुए अपनी बात को समाप्त किया कि विकेट लेने की क्षमता की कमी के कारण फ्रैंचाइजी अश्विन को टीम में रखने में दिलचस्पी नहीं ले सकती है। 56 वर्षीय ने कहा, "अश्विन लंबे समय से टी 20 क्रिकेट में विकेट लेने वाले गेंदबाज नहीं रहे हैं और मुझे नहीं लगता कि कोई फ्रेंचाइजी टीम में अश्विन को सिर्फ रन कम रखने के लिए चाहती है।"

Edited By: Vikash Gaur