नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। शुक्रवार को विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर (आरसीबी) और आर अश्विन की कप्तानी में किंग्स इलेवन पंजाब के बीच आइपीएल 11 का आठवां मुकाबला खेला गया। इस मैच को आरसीबी ने 4 विकेट से जीत कर इस सीजन में अपनी जीत का खाता खोल लिया, लेकिन इस मैच में कुछ ऐसा हो गया जो इस सीजन में खेले गए आइपीएल के पहले सात मुकाबलों में नहीं हुआ था। क्या आपने भी इस ओर ध्यान दिया कि आखिर इस मैच में ऐसा क्या हो गया जो इससे पहले खेले गए मुकाबलों में नहीं हुआ था। चलिए आपको बताते हैं कि क्या खास था इस मैच में।

इसलिए खास बना बैंगलोर और पंजाब का मैच

इस मैच में विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी का फैसला किया। पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी पंजाब की टीम ने पहले ही ओवर से अपने धुआंधार तेवर दिखाने शुरू कर दिए। केएल राहुल ने पहले ओवर में ही क्रिस वोक्स की लगातार दो गेंदों पर छक्के जड़कर खाता खोला। लेकिन एक बार जब पंजाब की टीम का विकेट गिरने का सिलसिला जारी हुआ तो फिर वो थमा ही नहीं और थोड़े- थोड़े अंतराल के बाद उनके विकेट गिर गए। पंजाब की टीम पूरे 20 ओवर भी नहीं खेल सकी और 19.2 ओवर में ही 155 रन पर सिमट गई। इसी के साथ पंजाब की टीम आइपीएल के इस सीजन में ऑल आउट होने वाली पहली टीम बन गई। आइपीएल 2018 में ये पहला मौका था जब कोई भी टीम ऑल आउट हुई हो, इससे पहले खेले गए सात मैचों में कोई भी टीम ऑल आउट नहीं हुई थी। 

उमेश यादव ने तोड़ी पंजाब की कमर

उमेश यादव ने एक ही ओवर में पंजाब के तीन बल्लेबाज़ों को आउट कर किंग्स इलेवन की टीम की कमर ही तोड़ दी। उमेश ने अपने दूसरे और पारी के चौथे ओवर की पहली गेंद पर मयंक अग्रवाल को विकेट के पीछे कैच कराया और फिर अगली ही गेंद पर एरोन फिंच (00) को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। युवराज सिंह (04) ने उन्हें हैट्रिक तो नहीं लेने दी, लेकिन उमेश ने छठी गेंद पर उन्हें बोल्ड कर इस ओवर में तीसरा विकेट झटका, जिससे चार ओवर बाद पंजाब का स्कोर तीन विकेट पर 36 रन हो गया। उमेश ने 4 ओवर में 23 रन देकर 3 विकेट चटकाए। उमेश के इन झटकों के बाद पंजाब की टीम 19.2 ओवर में 155 रन पर सिमट गई।

चैलेंजर्स को पंजाब ने दी कड़ी चुनौती 

156 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी आरसीबी को अक्षर पटेल (1/25) ने दूसरी गेंद पर ही ब्रैंडन मैकुलम (00) के रूप में झटका दिया। कप्तान विराट कोहली (21) ने कुछ अच्छे शॉट खेले, लेकिन अफगानिस्तान के 17 वर्षीय ऑफ स्पिनर मुजीब उर रहमान (1/29) ने उन्हें बोल्ड कर पंजाब को बड़ी सफलता दिलाई। क्विंटन डि कॉक (45) और डिविलियर्स ने तीसरे विकेट के लिए तेजी से 54 रन जोड़े। 12 ओवर की दूसरी गेंद पर रविचंद्रन अश्विन (2/30) ने डि कॉक को बोल्ड कर यह साझेदारी तोड़ी। अश्विन ने अगली गेंद पर सरफराज खान (00) को भी चलता कर स्कोर चार विकेट पर 87 रन कर दिया।

IPL की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

डिविलियर्स ने दिखाया दम

आरसीबी को अंतिम 24 गेंदों पर 41 रन की दरकार थी। 17वें ओवर में मुजीब पर डिविलियर्स और मनदीप सिंह (22) ने मिलकर 19 रन बटोरे। इनमें डिविलियर्स के लगातार दो छक्के शामिल रहे। इसके बाद अगले ओवर में डिविलियर्स ने मोहित शर्मा की गेंद पर छ्क्का लगाकर न सिर्फ अपना अर्धशतक पूरा किया बल्कि वो अपनी टीम को जीत के और करीब ले आए। अंतिम 12 गेंदों पर आरसीबी को 10 रन की दरकार थी। 19वें ओवर में एंड्रयू टाई (1/27) ने पहली गेंद पर डिविलियर्स को पवेलियन भेजा। डिविलियर्स ने मनदीप के साथ पांचवें विकेट के लिए 59 रन जोड़े। इसी ओवर में मनदीप रन आउट हो गए। हालांकि, वाशिंगटन सुंदर (नाबाद 09) और क्रिस वोक्स (नाबाद 01) पंजाब की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए अपनी टीम को जीत दिलाने में सफल हुए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें
अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pradeep Sehgal