मुंबई, प्रेट्र। मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस आइपीएल के 11वें सत्र में हार की हैट्रिक लगा चुकी है और अब चौथे मैच में उसका सामना रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर (आरसीबी) से होगा। मुंबई को यह मैच अपने घर वानखेड़े स्टेडियम में खेलना है ऐसे में मुंबई अपने हार के क्रम को तोडऩे के लिए बेताब होगी।

मुंबई तीन हार के बाद अंकतालिका में सबसे नीचे है। उसे सत्र के पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स से मात खानी पड़ी थी इसके बाद हैदराबाद ने उसे दूसरे मैच में मात दी थी। तीसरे मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स ने उसे हराया था। यह तीनों मैच काफी करीबी रहे थे और आखिरी ओवर तक गए थे।

आरसीबी को तीन में से सिर्फ एक में जीत मिली है। चौथे मैच में मुंबई अपनी पुरानी हारों को पीछे छोड़कर नई शुरुआत करने की कोशिश करेगी। अपने घर में खेलते हुए उसे इसका फायदा भी मिल सकता है।

मुंबई का बल्लेबाजी क्रम पहले दो मैचों में पूरी तरह से विफल हो गया था और जब उनके बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन करना शुरू किया तो उनकी गेंदबाजी विफल हो गई थी। ऐसे में टीम के दोनों विभागों को एक साथ मिलकर टीम की जीत के लिए प्रयास करने की जरूरत है। कप्तान रोहित की कोशिश होगी कि वह अपनी टीमें में संतुलन बनाए रखे।

मुंबई की बल्लेबाजी का ताकत एविन लुइस, रोहित और कीरोन पोलार्ड हैं। टीम की जीत के लिए इन तीनों का चलना बेहद जरूरी है। वहीं हार्दिक पांड्या उनेक भाई क्रुणाल पांड्या भी बल्ले से तूफानी अंदाज में प्रदर्शन कर सकते हैं। गेंदबाजी में टीम को इस साल नया हथियार मिला है। लेग स्पिनर मयंक मार्कंडेय टीम के लिए अभी तक काफी उपयोगी साबित हुए हैं। हालांकि कुछ मैचों में उन्हें दूसरे छोर से समर्थन नहीं मिला है।

मयंक के अलावा अकिला धंनजय मुंबई के लिए एक और अच्छा विकल्प हैं। वहीं मुस्तफिजुर रहमान पर जसप्रीत बुमराह का साथ देने की जिम्मेदारी है। रहमान ने बीते मैचों में आखिरी ओवरों में शानदार गेंदबाजी की है। वह बुमराह के बाद टीम के डेथ ओवर विशेषज्ञ बन गए हैं।

आरसीबी की ताकत बल्लेबाजी : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर की बात की जाए तो बल्लेबाजी उसकी ताकत है। टीम के पास ब्रेंडन मैकुलम, विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और क्विंटन डि कॉक जैसे दिग्गज बल्लेबाज हैं जो कहीं से भी मैच का रुख बदल सकते हैं। गेंदबाजी आरसीबी के लिए चिंता का विषय है। हालांकि वॉशिंगटन सुंदर और युजवेंद्रा सिंह चहल ने काफी प्रभावित किया है। राजस्थान के खिलाफ पिछले मैच में चहल ने अपनी फिरकी से रनों के तूफान को रोके रखा था। चहल का यह प्रदर्शन तब आया था जब आरसीबी के बाकी गेंदबाजों की धुनाई हो रही थी। तेज गेंदबाजी में उसके पास कुलवंत खेजरोलिया, क्रिस वोक्स हैं। कोहली कल के मैच में मुहम्मद सिराज को मौका दे सकते हैं। बाकी इस विभाग में बड़ी जिम्मेदारी उमेश यादव को निभानी होगी।

आइपीएल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By Sanjay Savern