नई दिल्ली, जेएनएन। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मंगलवार को खेले गए मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने चार विकेट चटकाए। कुलदीप के शानदार प्रदर्शन की बदौलत ही केकेआर ने राजस्थान को 6 विकेट से मात दे दी। इस मुकाबले में कुलदीप ने 4 ओवर में 20 रन देकर 4 बल्लेबाज़ों का शिकार कर विकेट का चौका लगा दिया। ये उनके आइपीएल करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी रहा। मैच के बाद कुलदीप ने खुद ही ये राज खोला कि आखिर क्यों उन्होंने राजस्थान के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

इस वजह से कुलदीप ने लगाया विकेट का चौका

कुलदीप यादव ने कहा है कि वह शेन वॉर्न को अपना आदर्श मानते हैं ओर उनके सामने अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। कुलदीप ने मंगलवार रात को यहां ईडन गार्डन्स स्टेडियम में लीग के 11वें संस्करण में राजस्थान के खिलाफ 20 रन देकर चार विकेट झटके और अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। उनके इस प्रदर्शन की बदौलत उन्हें मैन आफ द मैच का पुरस्कार मिला। कोलकाता ने इस मैच को छह विकेट से जीता।

कुलदीप ने मैच के बाद कहा, 'यह मैच मेरे लिए बहुत अहम था क्योंकि मेरा आदर्श (शेन वॉर्न) मेरे सामने थे और उनके सामने गेंदबाजी करने से मुझे प्रेरणा मिलती है। जिसे मैंने बचपन से अपना आदर्श माना है और अगर वह आपके प्रदर्शन की सराहना करते हैं तो बहुत अच्छा लगता है'।

उन्होंने कहा, 'निश्चित रूप से यहां से जाने के बाद मैं उनके सपंर्क में रहूंगा और उनसे बात करूंगा क्योंकि आइपीएल के बाद इंग्लैंड के लंबे दौरे पर जब भी कभी मुलाकात होगी तो उनके गेंदबाजी को लेकर काफी चर्चा करूंगा'।

कुलदीप ने अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को लेकर कहा, 'ईडन में खेलना अच्छा लगता है। हैट्रिक भी यहीं से ली है और मैंने यहां पर अपना पांच साल गुजारा है। यहां से काफी यादें जुड़ी हुई है। यह मैच हमारे लिए बहुत अहम था और मैंने चार विकेट निकाले। रहाणे के बारे में सोचा नहीं था कि वह रिवर्स स्विप करेंगे। मैंने अपना सामान्य गेंद डाला था। हां, थोड़ा ऊपर डाला था जिसे वह समझ नहीं सके'।

IPL की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

आइपीएल का पूरा शेड्यूल देखने के लिए यहां क्लिक करें

यह पूछे जाने पर कि अगर सुनील नरेन उनके सामने हो तो वह कैसी गेंदबाजी करेंगे, चाइना मैन गेंदबाज ने कहा, 'नरेन मेरे सामने बल्लेबाजी करने आएंगे तो मैं उन्हें अपना स्वभाविक गेंद डालूंगा। मैंने उन्हें कभी गेंद नहीं की लेकिन जिस तरह वह दूसरे गेंदबाजों को खेलते हैं तो शायद मुझे भी वैसे ही खेलने की कोशिश करेंगे। उनके खिलाफ मैं अपनी ताकत पर निर्भर रहूंगा और ज्यादा कुछ अलग करने की कोशिश नहीं करूंगा'।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal