नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन के दूसरे चरण के पहले मुकाबले में रायल चैलेंजर्स बैंगोलर की टीम को करारी हार मिली। कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ आरसीबी 92 रन ही बना पाई। 9 विकेट से मैच जीतकर केकेआर ने अपने प्लेआफ की उम्मीदों के आगे बढ़ाया। इस मैच में जैसी बल्लेबाजी विराट कोहली की टीम ने की उसपर वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज ब्रायन लारा ने सवाल खड़े किए।

क्रिकेट की अंग्रेजी वेबसाइट पर लारा ने कहा, एक ही पहलू है कि मैच फिटनेस कहा है, ये हो सकता है कि विराट कोहली के साथ भी हो। लेकिन जैसा कि हम सोच रहे हैं उससे यह बहुत ही ज्यादा करीबी मुकाबला रहा। हम सोच रहे हैं कि यह वो आरसीबी टीम है जिसने पहले हाफ में ना सिर्फ हावी होकर खेला बल्कि उन्होंने बाकियों से अच्छी क्रिकेट भी खेली। उनके खाते में सात में से कुल पांच जीत थी और केकेआर जैसे संघर्ष करती आ रही थी सोचा था कि यह टीम चूक जाएगी। लेकिन जब आप एक के साथ एक खिलाड़ी को मिलाते हैं तो फिर यह प्रतियोगिता बहुत ही ज्यादा नजदीकी हो जाता है।

आरसीबी की टीम आइपीएल में अब पांचवें सबसे छोटे स्कोर पर सिमट गई। कोलकाता के खिलाफ दूसरे चरण के पहले मुकाबले में महज 92 के स्कोर तक ही टीम पहुंच पाई। देवदत्त पडिक्कल ने 22 रन बनाए और यह इस मैच में आरसीबी की तरफ से सबसे बड़ा पारी रही। कप्तान विराट कोहली (5), एबी डिविलियर्स (0) जबकि ग्लेन मैक्सवेल (10) ही बना पाए।

लारा ने आगे मैक्सवेल को फटकार लगाते हुए कहा, क्या ये खिलाड़ी मैच प्रैक्टिस की कमी झेल रहे हैं। जी हां, आप ग्लैन मैक्सवेल की तरफ देखिए। वो बहुत ही गंदे नजर आए। वो बेहद ही खिजे हुए नजर आ रहे थे और एकदम से वह आउट होकर वापस लौट आए। वो जिस गेंद पर आउट हुए उसके आस पास भी नहीं थे। इसको देखने के बाद मुझे तो ऐसा लगा कि ये खिलाड़ी मानसिक तौर पर वहीं पर था ही नहीं और सिर्फ हाथों से इस लड़ाई को जीतना चाहता था।

 

Edited By: Viplove Kumar