चेन्नई, जेएनएन। आइपीएल-12 में लीग चरण के बाद अब प्लेऑफ मुकाबलों की बारी है। जिसमें पहले क्वालीफायर मुकाबले के लिए चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस एक-दूसरे के आमने-सामने होंगी। जीतने वाली टीम 12 मई को होने वाले फाइनल में जगह बनाएगी। जबकि हारने वाली टीम 10 मई को दूसरा क्वालीफायर खेलेगी। दोनों टीमें तीन-तीन बार आइपीएल चैंपियन बन चुकी हैं। चेन्नई के लिए अच्छी बात यह है कि मैच उसके गढ़ में हो रहा है, जहां उसका शानदार रिकॉर्ड है। चेन्नई ने एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम पर सात में से छह मैच जीते हैं, जिसका फायदा उसे जरूर मिलेगा। 

वहीं लीग मैचों में चेन्नई का टॉप ऑर्डर लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रही है। इसका मतलब मुंबई के बेहतरीन गेंदबाजों के सामने चेन्नई को हर हाल में बेहतर खेल दिखाना होगा। चेन्नई के सामने जसप्रीत बुमराह (17), लसिथ मलिंगा (15), हार्दिक पंड्या (14), कृणाल पंड्या (10) और राहुल चाहर (10) जैसे मुंबई के घातक गेंदबाज होंगे। पिछले मैचों को देखा जाए तो चेन्नई के लिए बल्लेबाजी का दारोमदार कप्तान धौनी पर ही रहा है, जिन्होंने 12 मैचों में तीन अर्धशतक सहित 368 रन बनाए हैं। धौनी के अलावा वॉटसन, डू प्लेसी और सुरेश रैना ने टीम के लिए कुछ अच्छी पारियां जरूर खेलीं, लेकिन अंबाती रायुडू लगातार फेल हो रहे हैं। 

वहीं चेन्नई को अनुभवी ऑलराउंडर केदार जाधव की कमी खलेगी। जाधव को पंजाब के खिलाफ मैच के दौरान कंधे में चोट लगी थी जिसकी वजह से वह पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। हालांकि इस सीजन में चेन्नई के लिए जाधव का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। जाधव ने 12 पारियों में 18 की औसत से 162 रन ही बनाए हैं। अब देखना ये है कि चेन्नई अपने इस अहम मुकाबले में जाधव की जगह किस खिलाड़ी को मौका दे सकती है। देखा जाए तो कप्तान धौनी के पास तीन अच्छे विकल्प हैं: 

मुरली विजय

चेन्नई की टीम जिस तरह बल्लेबाजी में संघर्ष कर रही है उसे देखकर लगता है कि मुरली विजय को शामिल करना टीम के लिए कारगर साबित हो सकता है। चेन्नई को ओपनिंग में फाफ डू प्लेसी के साथ मुरली विजय को उतारना चाहिए। एक दो मैच के अलावा वॉटसन का फॉर्म इस आइपीएल सीजन में खराब रहा है। ऐसे में अगर उनकी जगह मुरली को ओपनिंग में भेजा जाता है तो डू प्लेसी और सुरेश रैना पर दबाव कुछ कम हो सकता है। साथ ही विजय स्पिनर गेंदबाजों को वॉटसन से बेहतर खेलते हैं।  

ध्रुव शोरे 

चेन्नई ने मुरली विजय और ध्रुव शोरे को बैकअप की तरह रखा है। लेकिन मुरली की जगह शोरे कप्तान धौनी की पहली पसंद हो सकते हैं। क्योंकि शोरे मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज हैं इसलिए उनके शामिल होने से टीम का लाइन अप नहीं बिगड़ेगा। उनको बड़ी आसानी से जाधव की जगह खिलाया जा सकता है।  

मिचेल सेंटनर

सेंटर चेन्नई के लिए तीसरा अच्छा विकल्प साबित हो सकते हैं। चेपॉक में मुंबई और चेन्नई के बीच हुए लीग मैच में सेंटनर ने गजब की गेंदबाजी की थी। उन्होंने 4 ओवर में 13 रन देकर दो विकेट चटकाए थे। क्योंकि सेंटर बल्लेबाजी भी करते हैं इसलिए धौनी उन्हें वॉटसन की जगह मिडिल ऑर्डर में खिला सकते हैं। वह टीम में तीसरे ऑलराउंडर की तरह खेल सकते हैं।   

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप