हैदराबाद, पीटीआइ। राजस्थान रॉयल्स (RR)के कप्तान ने इस बात को स्वीकार किया कि जिस टीम में डेविड वॉर्नर जैसा कोई इन-फॉर्म बल्लेबाज हो उस टीम को रोकना बहुत मुश्किल है। वॉर्नर ने रॉयल्स के बल्लेबाज संजू सैमसन की 102 रनों पारी पर पानी फेर दिया। वॉर्नर की ताबड़तोड़ फिफ्टी की वजह से सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पांच विकेट से जीत दर्ज की। यह हैदराबाद की आइपीएल 2019 में पहली जीत है।

रॉयल्स की तरफ से खड़े किए गए 199 रनों का पीछा करते हुए वॉर्नर ने 37 गेंदों में 69 रन की पारी खेली। वॉर्नर ने जॉनी बेयरस्टो (28 गेंदों मे 45 रन) के साथ मिलकर पारी की शुरुआत करते हुए शतकीय साझेदारी की। इस पारी की बदौलत हैदराबाद ने इतने बड़े स्कोर को 19वें ओवर में ही हासिल कर लिया।

मैच के बाद हुए प्रेजेंटेशन सेरेमनी में रहाणे ने कहा,' मैं सबसे पहले कहना चाहूंगा कि 190 का स्कोर एक अच्छा टोटल था। विकेट पर बॉल थोड़ी सी रुक रही थी जिसकी वजह से हमनें 150 से ज्यादा रन बनाने का सोचा था। लेकिन सारा श्रेय पॉवर प्ले में हैदराबाद द्वारा हसिल किए गए मोमेंटम को जाता है। जब कोई वॉर्नर जैसी बल्लेबाजी करता है तो बॉलर के पास गलती करने बहुत कम गुंजाइश होती है।' उन्होंने आगे कहा कि हम हैदराबाद के मोमेंटम को तोड़ नहीं पाए। वॉर्नर के आउट होने के बाद विजय शंकर ने अच्छी बल्लेबाजी की। संजू सैमसन की तारीफ करते हुए कहा कि संजू ने शानदार बल्लेबाजी की। वह कितना टैलेंटड है, हमें पता है। मुझे पता है कि वह भी निराश होगा, लेकिन अभी कई मौके आएंगे।

वहीं हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने जीत के लिए वॉर्नर और बेयरस्टो को श्रेय दिया। वॉर्नर और बेयरस्टो ने जीत के लिए एक प्लेटफॉर्म खड़ा किया। जीत के बाद बात करते हुए केन ने कहा कि यह एक कड़ा मुकाबला था। राजस्थान रॉयल्स ने अच्छा खेल दिया, लेकिन हमारे ओपनर्स ने जीत के लिए अच्छी शुरुआत दी। हालांकि, जीत हमारे लिए आसान नहीं थी। हमें अब भी कुछ क्षेत्रों में सुधार करने की जरूरत है।

 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajat Singh