बेंगलुरु, प्रेट्र। लगातार दो जीत दर्ज करने के बाद आत्मविश्वास से भरी रॉयल रायल चैलेंजर्स बेंगलूर की टीम आइपीएल में बुधवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ उतरेगी तो उसका इरादा जीत की हैट्रिक बनाने का होगा।

आरसीबी ने चेन्नई सुपर किंग्स को पिछले मैच में एक रन से हराया और वह जीत की इस लय को कायम रखना चाहेगी। पिछले मैच में महेंद्र सिंह धौनी की आक्रामक बल्लेबाजी के बावजूद आरसीबी ने एक रन से जीत दर्ज की, जिससे उसका आत्मविश्वास बढ़ा होगा। विराट कोहली की टीम अब आगे भी ऐसा ही प्रदर्शन करना चाहेगी।

एबी डिविलियर्स और कोहली बल्ले से उतने सफल नहीं रहे और अब बड़ा स्कोर बनाने की जुगत में होंगे। पंजाब के खिलाफ पहले चरण के मैच में डिविलियर्स ने नाबाद 59 और कोहली ने 67 रन बनाए थे। मोहाली में हुए उस मैच में आरसीबी ने आठ विकेट से जीत दर्ज की थी। डेल स्टेन के आने के बावजूद गेंदबाजी आरसीबी की कमजोर कड़ी बनी हुई है। पिछले मैच में ही धौनी ने जीत के लिए 162 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए उमेश यादव के आखिरी ओवर में 25 रन कूट डाले थे। वह सिर्फ एक रन से चूक गए जब विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने शार्दुल ठाकुर को रन आउट कर दिया। यह इस सत्र में 10 मैचों में आरसीबी की तीसरी जीत थी।

कोहली एंड कंपनी इस सत्र में पंजाब के खिलाफ एक और जीत दर्ज करना चाहेगी, जो 10 अंकों के साथ तालिका में पांचवें स्थान पर है। रविचंद्रन अश्विन की टीम को पिछले मैच में दिल्ली कैपिटल्स ने दो रन से हराया था। अब क्रिस गेल, केएल राहुल और डेविड मिलर आरसीबी की कमजोर गेंदबाजी का फायदा उठाकर बड़ा स्कोर बनाना चाहेंगे। मुहम्मद शमी और अश्विन पंजाब के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे हैं और उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी। अंकित राजपूत, सैम कुर्रन, हर्डस विल्जोन और एंड्रयू टाई पंजाब की गेंदबाजी को गहराई देते हैं।

Posted By: Sanjay Savern