मुंबई, जेएनएन। आइपीएल के अपने करो या मरो के मुकाबले में मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेलते हुए कोलकाता नाइट राइडर्स ने बेहद खराब खेल दिखाया। टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी कोलकाता 20 ओवर में सिर्फ 133 रन ही बना पाई। जवाब में मुंबई ने 16.1 ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर जीत दर्ज की। मुंबई की तरफ से कप्तान रोहित शर्मा (48 गेंदों में 55 रन) और सूर्यकुमार यादव (27 गेंदों में 46 रन) ने बेहतरीन पारी खेली। 

वहीं कोलकाता को बल्लेबाजी करते वक्त पहले छह ओवर में अच्छी शुरुआत मिली। लेकिन शुभमन गिल के आउट होते ही टीम का संभलना मुश्किल हो गया। हालांकि क्रिस लिन ने 41 रन की शानदार पारी खेली लेकिन उनके अलावा एक भी बल्लेबाज नहीं चला। हर बार की तरह इस बार भी टीम आंद्रे रसेल पर निर्भर थी लेकिन रसेल बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। 

यहां तक कि दिनेश कार्तिक और रॉबिन उथप्पा जैसे टीम के अनुभवी खिलाड़ी भी नाकाम रहे। उथप्पा ने 40 रन तो बनाए लेकिन उन्होंने इसके लिए 47 गेंदों का इस्तेमाल किया। वहीं कप्तान कार्तिक 9 गेंदों में तीन रन बनाकर चलते बने। 

खासकर अगर रॉबिन उथप्पा की बात करें तो वह 47 में से 25 गेंदों पर एक भी रन नहीं बना पाए थे। 11वां ओवर करवा रहे मिचेल मैक्लेनेघन के ओवर में उथप्पा एक भी रन नहीं बना पाए और ओवर मेडन रहा। गेंद उनके बल्ले पर आ ही नहीं रही थी जिसकी वजह से उथप्पा की पारी धीमी रही। केकेआर की हार बाद सिर्फ फैन्स ही नहीं बल्कि सीनीयर खिलाड़ी और कमेंटेटर्स ने भी उथप्पा की बल्लेबाजी पर सवाल उठा दिए। 

इस अहम मुकाबले में केकेआर को प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए मुंबई को हराना जरूरी था लेकिन अगर टीम ऐसा नहीं कर सकी तो सनराइजर्स हैदराबाद का अगले पड़ाव पर जाना तय हो जाता। रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले कोलकाता को बल्लेबाजी का न्योता दिया। 

आकाश चोपड़ा ने तो उथप्पा को रिटायर होने की सलाह भी दे डाली। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, " 'रिटायर्ड आउट'। वहीं हर्षा भोगले ने लिखा, 'रॉबिन उथप्पा संघर्ष करते दिखे। एक तरह से वह दलदल में फंसे थे जितना ज़्यादा कोशिश कर रहे थे उतरना ही फंसते जा रहे थे। अच्छे खिलाड़ियों का भी बुरा दिन आता है। उथप्पा का ये दिन अहम मैच के दिन आया। ऐसा दिन जो आप भुला देना चाहेंगे।' 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप