नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली कैपिटल्स (DC) के खिलाफ सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को इस सीजन की लगातार तीसरी हार मिली। हैदराबाद की लगातार हार के पीछे एक गलती सामने उभर कर आई है। हैदराबाद अगर यह गलती दोहराती है तो आइपीएल (IPL) में उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। टीम का मिडिल ऑर्डर लगातार फ्लॉप हो रहा है। पिछले कुछ मैचों में दिल्ली भी ऐसी ही समस्या से गुजर रही थी, लेकिन उसने काफी सुधार किया। हैदराबाद को अगर वापस जीत की राह पकड़नी है, तो उसे इस कमी पर काबू पाना पड़ेगा।

वॉर्नर और बेयरस्टो को छोड़ सब फ्लॉफ

हैदराबाद की ओर से  सबसे ज्यादा रन वॉर्नर ने बनाए हैं। 400 रनों के साथ वॉर्नर के पास ऑरेंज कैप भी है , इसके अलावा बेयरस्टो ने 304 रन बनाए हैं। इन दोनों के अलावा अबतक केन विलियमसन (17), यूसुफ पठान (32), नबी (40), मनीष पांडे (54) और विजय शंकर (132) अपने बल्ले से योगदान नहीं दे पाए हैं। मिलिड ऑर्डर में बल्लेबाजी करने वाले इन सभी प्लेयर्स के कुल रन वॉर्नर के रनों से 125 रन कम हैं।  

15 रन में गंवाए 8 विकेट

दिल्ली के खिलाफ हैदराबाद के मिडिल ऑर्डर ने बिल्कुल अच्छा खेल नहीं दिखाया। एक समय जब हैदराबाद के लिए जीत आसान लग रही थी, तब उन्होंने 15 रन के अंदर आठ विकेट गंवा दिए। 72 रन के स्कोर पर हैदराबाद का एक भी विकेट नहीं गिरा था, लेकिन कीमो पॉल की गेंद को जॉनी बेयरस्टो नहीं सममझ पाए और अपना विकेट गंवा बैठे। इसके कुछ ही देर बाद केन विलियमसन (03), रिकी भुई (07) को भी पॉल ने पवेलियन भेजा। इसके बाद तो हैदराबाद के विकेट पतझड़ की तरह गिरने लगे। वॉर्नर के बाद विजय शंकर (01), दीपक हुडडा (03), अभिषेक शर्मा (01), राशिद खान (00), भुवनेश्वर कुमार (02) और खलील अहमद (00) को दिल्ली के गेंदबाजों ने पवेलियन का रास्ता दिखाया। पूरी टीम 116 रन पर पवेलियन लौट गई। इससे पहले आइपीएल के इस सीजन में सिर्फ दिल्ली ने 8 रन के अंदर 7 विकेट गंवाए थे।

पंजाब के खिलाफ भी यही गलती

दिल्ली से पहले पंजाब के खिलाफ खेलते हुए भी हैदराबाद के मिडिल ऑर्डर ने निराश किया था। टीम ने 150 रन बनाए थे, जिसमें वॉर्नर ने अकले 70 रन बनाए थे। विजय शंकर को छोड़ पूरे मिडिल ऑर्डर में से किसी और का बल्ला नहीं चला। मनीष पांडे, मोहम्मद नबी और दीपक हुड्डा तीनों ने ही टीम को निराश किया।

Posted By: Rajat Singh