नई दिल्ली, जेएनएन। रिषभ पंत की विकेटकीपिंग को लेकर सवाल खड़े होते रहे हैं। विश्व कप (World Cup) में चयन न होने की सबसे बड़ी वजह उनकी विकेटकीपिंग ही है। दिल्ली कैपिटल्स (DC) और चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के बीच खेले गए मैच में महेंद्र सिंह धौनी ने पंत को लेकर एक बात कही थी। लगता है कि पंत ने इस बात गौर किया। ऐसा एलिमिनेटर वाले मैच में देखने को भी मिला।

एक गलव्स से विकेटकीपिंग
चेन्नई के खिलाफ पंत आखिरी ओवर में दोनों ग्लव्स पहन कर विकेटकीपिंग कर रहे थे। इसके बाद धौनी ने कहा था कि रिषभ पंत ने मेरी सहायता की क्योंकि उसने अपना ग्लव्स नहीं निकाला था। इस वजह से वो तेज और जल्दी थ्रो नहीं कर पाया और मैंने रन ले लिया। ये आपको टेनिस बॉल की क्रिकेट से सीखने को मिल सकता है। आप अगर छोटी-छोटी चीजों पर ध्यान नहीं देते तो फिर बड़ी गलती करते हो। इसलिए बेसिक चीजों पर हमेशा ध्यान दो।

काम आई धौनी की सलाह

ऐसा लगता है कि रिषभ पंत ने धौनी की यह सलाह मान ली। एलिमिनेटर मैच में वह हैदराबाद के खिलाफ एक ग्लव्स पहन कर विकेटकीपिंग की। पंत को इसका फायदा भी मिला, जब उन्होंने दीपक हुड्डा को रन आउट कर दिया। दरअसल, हैदराबाद की पारी के आखिरी ओवर में दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाज कीमो पॉल गेंदबाजी कर रहे थे। इसी ओवर की चौथी गेंद को दीपक हुड्डा ने मिस कर दिया। लेकिन, दूसरे छोर पर खड़े बल्लेबाज राशिद खान रन लेने के दौड़ पड़े। ऐसे में दीपक हुड्डा को भी रन लेकर छोर बदलने के लिए जाना पड़ा। इसी दौरान जब वे रन ले रहे थे तो विकेट के पीछे से रिषभ पंत ने नॉन स्ट्राइकर एंड पर थ्रो कर गिल्लियां बिखेर दीं।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस