बेंगलुरू, पीटीआइ। तूफानी बल्लेबाज आंद्रे रसेल ने एक बार फिर धुंआधार पारी खेलते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ केकेआर को जीत दिलाई। आइपीएल के 12वें सीजन के 17वें मुकाबले में केकेआर ने 206 रनों के लक्ष्य को हासिल कर आरसीबी को 5 विकेट से हराया।

रसेल ने 13 गेंदों में नाबाद 48 रनों की पारी खेली। जिसकी मदद से केकेआर ने आखिरी 4 ओवर में 66 रन बनाकर बैंगलोर से जीत छीन ली।  

मैच के बाद ऑलराउंडर रसेल ने कहा कि उन्हें लगता था कि ऑस्ट्रेलियाई मैदान काफी बड़े होते हैं, लेकिन वहां भी वह स्टैंड्स तक छक्के लगा चुके हैं। रसेल ने कहा, ' मुझे लगता है कि मेरे लिए कोई भी ग्राउंड बड़ा नहीं है। मेरी बैटिंग स्पीड काफी अच्छी है। मुझे अपनी बल्लेबाजी पर यकीन भी है।    

केकेआर को 24 गेंदों में 66 रन चाहिए थे, रसेल ने क्रीज पर आते ही कोलकाता ने 19 गेंदों में 66 रन पूरे कर लिए। रसेल की पारी में 7 छक्के और एक चौका लगा। रसेल ने कहा, " टीम से बहुत अच्छा सपोर्ट मिला और इसलिए मुझे भी अपनी काबलियत दिखाने का मौका मिला।" 

206 रनों के लक्ष्य को हासिल करने उतरी कोलकाता को क्रिस लिन (31 गेंदों में 43 रन) ने बेहतरीन शुरुआत दी। उसके बाद रॉबिन उथप्पा (25 गेंदों में 31 रन) और नीतिश राणा (23 गेंदों में 43 रन) ने भी शानदार बल्लेबाजी की। 

रसेल ने कहा, "मैं जब बल्लेबाजी करने उतरा था तब मुझे अपने आप पर पूरी भरोसा था। डीके ने मुझे कहा कुछ गेंदें खेलकर देखना कि पिच कैसी है। लेकिन मैंने डगआउट से टीवी पर देखा था और थोड़ा बहुत अंदाजा लग गया था। ऐसा हर मैच में नहीं होता जब आपको 20 गेंदों में 60 रन बनाने होते हैं। टी20 खेल ही ऐसा है जिसमें एक ओवर में गेम पलट जाता है। इसलिए मैं कभी हार नहीं मानता। मेरे मन में यह था कि रन बहुत ज्यादा हैं लेकिन मुझे फिर भी लड़ना है।" 

 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस