नई दिल्ली, एएनआइ। बायो बबल में कोरोना की सेंध के कारण आइपीएल के 14वें सत्र को स्थगित करना पड़ा है। इसके चलते खिलाड़ी अपने-अपने घर रवाना होने लगे हैं। लेकिन दुर्भाग्य चेन्नई सुपरकिंग्स के बैटिंग कोच माइकल हसी को इसके लिए अभी इंतजार करना होगा। वह कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं और नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद ही वह घर रवाना हो सकेंगे। यही कारण है कि फ्रेंचाइजी उन्हें एयर एंबुलेंस से दिल्ली से चेन्नई लेकर आई है। 

समाचार एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए सीएसके के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि स्थिति पर बेहतर नियंत्रण सुनिश्चित करने के लिए  हसी और गेंदबाजी कोच एल बालाजी दोनों को चेन्नई लाया गया। अधिकारी ने पुष्टि की कि कप्तान एमएस धौनी दोपहर में रांची के लिए रवाना होंगे।

अधिकारी ने कहा कि हमारे चेन्नई में बेहतर संपर्क हैं। इसलिए एयर एंबुलेंस में हसी और बालाजी दोनों को चेन्नई लाने का फैसला किया गया। सौभाग्य से, उनमें कोई कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं और दोनों ठीक हैं। लेकिन हां, हसी को भारत छोड़ने से पहले एक नेगेटिव रिपोर्ट का इंतजार करना होगा। हम उनके लिए चार्टर फ्लाइट  व्यवस्था।

बाकी विदेशी खिलाड़ियों के बारे में पूछने पर अधिकारी ने कहा कि चार्टर फ्लाइट की व्यवस्था की गई है और उन्हें इंतज़ार करने का कोई सवाल ही नहीं है। खिलाड़ियों की सुरक्षा प्राथमिकता है और हमने उन सभी के लिए चार्टर विमानों की योजना बनाई है। हम उन्हें जल्द से जल्द सुरक्षित घर पहुंचाना चाहते हैं। आइपीएल में शामिल प्रत्येक व्यक्ति की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए बीसीसीआइ और आइपीएल गवर्निंग काउंसिल ने लीग स्थगित कर दिया था।

सनराइजर्स हैदराबाद के विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा और दिल्ली कैपिटल्स के स्पिनर अमित मिश्रा के मंगलवार को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद लीग को स्थगित कर दिया गया था। इइसे एक दिन पहले ही सोमवार को कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के गेंदबाजों संदीप वॉरियर और वरुण चक्रवर्ती एवं चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के गेंदबाजी कोच एल बालाजी के कोरोना के लिए टेस्ट पॉजिटिव पाए गए थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप