नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीलंका के खिलाफ रविवार से शुरू होने जा रही पांच मैचों की वनडे सीरीज में युवराज सिंह और सुरेश रैना को भले ही जगह नहीं मिल सकी है, लेकिन बीसीसीआइ के सूत्रों का कहना है कि इन दोनों के लिए अभी टीम में आने के रास्ते पूरी तरह बंद नहीं हुए हैं। 

हाल ही में खबर आई थी कि इन दोनों खिलाड़ियों के यो-यो टेस्ट में फेल होने की वजह से इन्हें टीम में जगह नहीं मिल सकी थी। यो-यो टेस्ट खिलाड़ियों की फिटनेस का स्तर जांचने के लिए होता है। हालांकि, बीसीसीआइ अधिकारियों का कहना है कि इन खिलाड़ियों को इस वजह से बाहर नहीं रखा गया है और वे टीम में जगह बना सकते हैं।  

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक चयन समिति के एक उच्च पदस्थ सूत्र ने कहा है कि युवी को यो-यो टेस्ट की वजह से बाहर करने की खबर सही नहीं है। मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने भी कहा है कि  युवराज सिंह को आराम दिया गया है और उनके लिए वापसी के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। 

युवराज के अलावा सुरेश रैना पिछले महीने नीदरलैंड की राजधानी एम्सटर्डम में कड़ी ट्रेनिंग का कर रहे थे। रैना ने बताया था कि वह नेशनल क्रिकेट अकादमी में जाने की तैयारी कर रहे हैं। 

भारतीय टीम के ट्रेनर रहे राजमी श्रीनिवासन ने कहा कि उन्हें यह सुनकर काफी अजीब लगा कि युवी और रैना फिटनेस टेस्ट पास नहीं कर सके। उन्होंने यह भी कहा कि बीसीसीआइ किसी खिलाड़ी का चयन केवल यो-यो टेस्ट के आधार पर नहीं करती है। रामजी 2011 में टीम इंडिया के विश्व कप जीतने के दौरान भी टीम के फिटनेस ट्रेनर थे। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप