नॉटिंघम, एएफपी। विश्व कप में सोमवार को खेले गए मैच में मैदानी अंपायर मारियर इरसमस और सुंदरराम रवि ने इंग्लैंड और पाकिस्तान के कप्तानों से बात की। दोनों टीमों के खिलाड़ी गेंद को थ्रो फेंकने के दौरान ज्यादा तेजी से टप्पा दे रहे थे ताकि गेंद को रिवर्स स्विंग के लिए तैयार की जाए।

अंपायरों ने मैच के दौरान इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन और पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद से इसे लेकर बात की। मैच के बाद मोर्गन ने कहा कि दोनों पारियों के दौरान लगातार चर्चा हो रही थी। अंपायर पारी के मध्य में मेरे पास आए। उन्हें लग रहा था कि हम गेंद को ज्यादा उछाल दिलाने के लिए जमीन पर गेंद को ज्यादा तेजी से मार रहे हैं।

मोर्गन ने कहा कि यह दोनों तरफ से हो रहा था। उनके मुताबिक पाकिस्तान भी ऐसा कर रही थी। जब गेंद विज्ञापन बोर्ड से लगी तो वह थोड़ी सी खराब हो गई थी और बटलर देखना चाहते थे कि गेंद की एक साइड दूसरी साइड से सख्त है या नहीं। इसके बाद उन्होंने अंपायर से बात की।

पाकिस्तान के अनुभवी खिलाड़ी मुहम्मद हफीज ने कहा कि उनकी टीम के खिलाडि़यों को भी मैदान पर गेंद को मारने के लिए जुर्माने की चेतावनी दी गई थी। हफीज ने कहा कि यह उनका काम है और वह अपना काम कर रहे थे। दोनों पारियों में ऐसे कुछ मामले थे जब गेंद एक बाउंस में नहीं आई। हमें 20 ओवरों के बाद चेतावनी मिली कि अगर हम दो बाउंस में गेंद को थ्रो करेंगे तो हम पर जुर्माना लगा दिया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस