लंदन, पीटीआइ। 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में वर्ल्ड कप 2019 का आयोजन होना है। इसके लिए 10 टीमें जमकर मेहनत कर रही हैं। वहीं, इंटरनेशन क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी भी क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट को सफल बनाने के लिए एक के बाद एक तमाम फैसले ले रही है, जिससे कि वर्ल्ड कप एकदम ट्रांसपेरेंट हो। इसी कड़ी में ICC ने एक और कड़ा कदम उठाया है। 

दरअसल, आइसीसी ने इस बार हर एक टीम के लिए एक एंटी-करप्शन ऑफिसर को साथ रखने का एलान किया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आइसीसी ने भ्रष्टाचार निरोधक अधिकारी को टीम के साथ इसलिए रखने का मन बनाया है क्योंकि टूर्नामेंट फिक्सिंग और भ्रष्टाचार से मुक्त हो। आइसीसी खुद एंटी-करप्शन ऑफिसर की नियुक्ति करेगी, जो टीम के साथ रहेंगे।   

वर्ल्ड कप के वार्मअप मैच से और आखिर तक एंटी-करप्शन यूनिट का एक ऑफिसर हर एक टीम के साथ रहेगा।इससे पहले आइसीसी ने एंटी-करप्शन यूनिट को हर एक वेन्यू के लिए चुना था, जो अब टीम के साथ भी रहेंगे।एंटी-करप्शन ऑफिसर उसी होटल में ठहरेगा जहां टीम होगी। टीम के साथ-साथ एंटी-करप्शन ऑफिसर मैच और ट्रेनिंग सेशन के लिए जाएगा। 

आइसीसी का टीम के साथ एंटी-करप्शन ऑफिसर रखने के उद्देश्य ये है कि एक तो वर्ल्ड कप एकदम पारदर्शिता वाला हो। दूसरा ये कि टीम के खिलाड़ियों और एंटी-करप्शन यूनिट के बीच रिश्ता अच्छा हो। पूरे टूर्नामेंट के दौरान एंटी-करप्शन ऑफिसर रखने के मायने इसलिए भी है कि अगर कोई संदिग्ध उनसे मिलने की कोशिश करता है तो उस पर भी नज़र रखी जा सके। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur